सरकारी निशुल्क दवाई में मिले कीड़े

अलवर। जिले के खेड़ली रेफरल चिकित्सालय में सरकारी निशुल्क दवा योजना पर सवाल खड़े होते जा रहे हैं. मरीजों की मिलने वाली दवाइयों में कीड़े निकलने से मरीजों में भारी रोष व्याप्त है, चिकित्सा अधिकारियों में मचा है हडक़ंप।
मिली जानकारी के अनुसार, रविवार को क्षेत्र के गाँव कुट्टीन निवासी विशंभर दयाल मीणा को बुखार, जुखामस खांसी हो गया था, जिस पर खेड़ली चिकित्सालय में दिखाने गया, जहाँ चिकित्सकों ने उसे दवाइयाँ लिख दीं, जो विशंभर दयाल मीणा ने चिकित्सालय की निशुल्क दवा योजना की खिडक़ी से प्राप्त की। सुबह दवा लेने लगा तो उसे एंटी वाइट टैबलेट एम्मोक्सिक्लेव 625 एमजी में जगह-जगह छेद और कीड़े नजर आए।

मरीज अपने परिजन और ग्रामीणों के साथ खेड़ली रेफरल चिकित्सालय पहुंचा, जहां उसने मौजूद बीसीएमओ डॉक्टर जितेंद्र बुंदेल और चिकित्सालय प्रभारी शिवचरण मीणा को पूरी जानकारी दी। इस तरह गोलियों में कीड़े मिलने की शिकायत के बाद चिकित्सा विभाग के अधिकारियों में हडक़ंप मच गया और घबरा गए। तुरंत ही विभाग के उच्च अधिकारियों को मामले से अवगत कराया गया। सीएमओ ने भी गोलियों में कीड़े पाए जाने की बात को स्वीकार किया है। उन्होंने जांच कराकर संबंधित सप्लाई कंपनी के विरुद्ध कार्रवाई के लिए कहा है। वहीं चिकित्सालय प्रभारी शिवचरण मीणा ने बताया की आगामी जांच नहीं होने तक उक्त गोलियों की सप्लाई में वितरण मरीजों को नहीं किया जाएगा।