इंजेक्शन खरीद में घोटाले की बू

चंडीगढ़

हरियाणा प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने हेपेटाइटिस-बी और सी बीमारी के इलाज के लिए बाजार में गोलियां उपलब्ध होने के बावजूद इंजेक्शन खरीद की जांच के आदेश दे दिए हैं। स्वास्थ्य विभाग ने करीब छह करोड़ रुपये के इंजेक्शन खरीदने का प्रस्ताव बनाकर मंत्री के पास भेजा था, लेकिन मंत्री ने इस पर रोक लगा दी है। मंत्री को आशंका है कि इंजेक्शन खरीद में भारी घोटाला किया जाने वाला था। इसी आशंका के चलते उन्होंने इंजेक्शन खरीद के प्रस्ताव पर रोक लगा दी है। विज ने प्रस्ताव तैयार करने वाले अधिकारियों के खिलाफ भी जांच के आदेश दिए हैं।