सोनीपत के सेक्टर 15 में गर्भपात का गोरखधंधा

सोनीपत
स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सेक्टर 15 स्थित एक मकान पर छापामार कार्रवाई करते हुए वहां से गर्भपात के औजार मिले। जिन्हें स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सील कर दिया। इस दौरान एक दलाल को भी गिरफ्तार किया है, जो रुपये लेकर गर्भपात कराने का कार्य करता था। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लिंग जांच और कन्या भ्रूण हत्या करने वालों के खिलाफ शिंकजा कसना शुरू कर दिया है। इस मामले में मुरथल थाने में विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज करवाया गया है।
जिला पीएनडीटी अधिकारी डॉ. आदर्श शर्मा ने बताया कि उन्हें मुरथल गांव स्थित सीमा नर्सिंग होम पर गर्भपात करने की शिकायत मिली थी। जिसके आधार पर उन्होंने नकली ग्राहक बनाकर नर्सिंग होम पर भेजा। ग्राहक से नर्सिंग होम की संचालिका ने गर्भपात करने की एवज में 20000 हजार रूपये की डिमांड की। नर्सिंग होम की संचलिका डॉक्टर सीमा ने उन्हें सैक्टर-15 स्थित रिहायशी मकान-2331 पर आने को कहा। जहां पर स्वास्थ्य

विभाग की टीम ने छापा मारकर डाक्टर सीमा से 15000 हजार रूपये बरामद किये। मकान से गर्भपात करने के औजार बरामद हुए। जिन्हें जांच टीम ने सील करते हुए अपने कब्जे में ले लिया। इस मामले में एक दलाल दीपक मुरथल निवासी शामिल था, जो ग्राहक लेकर डाक्टर सीमा केपास आता था। डॉ आदर्श शर्मा ने बताया कि विभाग की सूचना मिली थी कि सेक्टर 15 के एक मकान में गर्भ गिराने का कार्य होता है। जिस पर कार्यवाही करते हुए विभाग की टीम ने छापामार कार्रवाई को अंजाम दिया है। उन्होंने बताया कि डा. सीमा का मुरथल थाना एरिया में सीमा नर्सिग होम है, लेकिन डा. सोनीपत सैक्टर 15 सिथत अपने मकान में गर्भपात कराने का काम करती थी। मौकेपर दीपक को गिरफ्तार कर लिया गया है और आरोपी डा. सीमा के खिलाफ केस दर्ज कर गहन पूछताछ की जा रही है। वही डां.सीमा का कहना है कि उन्हें बेवजह फसाया जा रहा है। इस मामले में मुरथल थाना एसएचओ अजय धनखड़ ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर आदर्श शर्मा की शिकायत दीपक निवासी मुरथल ओर सीमा नर्सिंग होम मुरथल की संचलिका के खिलाफ एमटीपी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया। दीपक को गिरफ्तार कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।