राजधानी में मुफ्त मरहम की फुल तैयारी

नई दिल्ली

आम आदमी के हितों का खास ख्याल रखने का दावा करने वाली राजधानी की केजवरीवाल सरकार ने अपने वायदे के अनुरूप एक फरवरी से दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में पूर्णत: दवा मुफ्त दिए जाने की सारी तैयारी कर ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने स्वयं इसकी घोषणा कर जनता से आग्रह किया कि यदि कोई समस्या आती है तो सीधे जनप्रतिनिधि से संपर्क करें।

उन्होंने कहा कि किसी प्रकार की जांच के लिए भी शुल्क नहीं लगेगा। हालांकि, मरहम -पट्टी, स्लाइन व डिस्पोजेवल आदि अभी फ्री में नहीं मिलेगी। पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि एक फरवरी से सभी दवाएं मुफ्त देने को सरकार तैयार है। उन्होंने दिल्ली के अस्पतालों के करीब तीन हजार डाक्टर से उक्त मामले में वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिये बात की है। इसमें डाक्टरों ने बताया कि करीब 12 सौ आइटम कंम्त्यूमेवल हैं। ऐसे में शुरुआत में सभी 12 सौ आइटम निशुल्क उपलब्ध करा पाना मुश्किल भरा होगा। उन्होंने कहा कि सरकार सरकारी अस्पतालों में उपलब्ध होने वाले कंम्यूमेवल आइटम की एक लिस्ट तैयार कर रही है। इसके अलावा यदि किसी को अन्य प्रकार के आइटम की जरूरत होगी तो उसे बाहर से भी लेना पड़ सकता है। इस समस्या का हल भी तीन माह में करा दिया जाएगा। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि हमारा मकसद आप लोगों को बेहतर सुविधाएं देना है। एक फरवरी से जो व्यवस्था शुरू होगी, उसमें अभी कुछ परेशानी आ सकती है, क्योंकि यदि अस्पताल में मशीन खराब पड़ी है तो इससे परेशानी हो सकती है। यदि मशीन ठीक है तो फ्री में ही जांच होगी। उन्होंने लोगों से कहा है कि अगले कुछ समय में मशीनें भी ठीक करा दी जाएंगी। फिर इस तरह की भी समस्या नहीं रहेगी।