आई फ्लू में ना खायें दवाई होगा बड़ा नुकसान

आई फ्लू में ना खायें दवाई होगा बड़ा नुकसान

इन दिनों देश के कई राज्यों में तेजी से आई फ्लू (Eye Flu) फैल रहा है। अब तक लाखों लोग इस बीमारी की चपेट में आ चुके हैं। आई फ्लू एक ऐसा वायरल इंफेक्शन है जो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति की आंखों में फैलता है। इसे कंजक्टिवाइटिस भी कहा जाता है।

जानिए आई फ्लू के लक्षण 

आंखों में आई फ्लू  आंखें लाल हो जाती हैं और आंखों से फ्लूड निकलने लगता है। आंखों में सूजन आने लगती है और इरिटेशन भी होने लगती है। कई बार ऐसा होता है कि लाइट में जाने पर सेंसिटिविटी महसूस होती है और आंखें खोलना भी मुश्किल हो जाता है।

आई फ्लू में कौनी सी ड्रॉप्स आराम देती है 

नई दिल्ली के सिरी फोर्ट स्थित विजन आई सेंटर के मेडिकल डायरेक्टर डॉ. तुषार ग्रोवर ने बताया कि इन दिनों  वायरल कंजक्टिवाइटिस तेजी से फैल रहा है। आम भाषा में इसे आई फ्लू कहते हैं। एक वायरल इंफेक्शन है, जो आंखों को प्रभावित करता है। इसकी चपेट में आने पर आंखों में परेशानी होती है, लेकिन एक सप्ताह के भीतर यह अपने आप ठीक हो जाता है। आई फ्लू से परेशान कई लोग 3-4 दिन में भी रिकवर हो जाते हैं. यह एक कॉमन इंफेक्शन है, जो आंखों के लिए खतरनाक नहीं होता है। इससे न तो नजर कमजोर होती है और न ही इससे अंधेपन का खतरा है। यदि किसी को सीवियर आई फ्लू होता है, तो विजन में टेंपररी दिक्कत हो सकती है, लेकिन वह कुछ दिनों में अपने आप ठीक हो जाती है। इससे घबराने की जरूरत नहीं है, बस इससे बचने के लिए सावधानी बरतनी चाहिए।

आई फ्लू में ना खायें दवा

आई फ्लू से निजात पाने के लिए एंटीवायरल या एंटीबैक्टीरियल दवाएं लेते हैं। लेकिन ऐसा करने से कोई फायदा नहीं होता है। इसलिए ऐसी दवाओं को खाने से बचना चाहिए। वहीं आई ड्रॉप्स की बात की जायें तो लुब्रिकेंट ड्रॉप्स काफी फायदा पहुंचा सकते हैं। दिन में 2-3 बार लुब्रिकेंट ड्रॉप डालने से जल्द राहत मिल सकती है। 4-5 दिनों में आई फ्लू इस ड्रॉप्स को डालने से ठीक हो जाता है।  एक्सपर्ट की मानें तो आंखों में एंटीबायोटिक ड्रॉप्स डॉक्टर की सलाह के बाद ही डालने चाहिए।

ये भी पढ़ें- रीमैन लैब्स को विनिर्माण बंद करने का आदेश

Advertisement