म. प्र. में गरीबों के इलाज में खप रहीं एक्सपायरी दवाएं

मंडला
मुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज कराने वाले गरीबों की जान यहां के लापरवाह कर्मचारियों की बदौलत दांव पर लग गई है। मरीजों को एक्सपायरी डेट की दवाएं बांटी जा रही हैं, जिससे उनकी जान तक जा सकती है। लापरवाही की हद सिर्फ दवा वितरण केंद्र तक ही सीमित नहीं है बल्कि अस्पताल के स्टोर रूप में भी ऐसी दर्जनों दवाएं पाई गई जो महीनों पहले एक्सपायर हो चुकी हैं। नियमानुसार एक्सपायर हो रही दवाओं को समय से पहले स्टोर से हटाने का प्रावधान है, लेकिन निराश हो चुके कर्मचारी और लापरवाह अधिकारियों द्वारा ध्यान न देने के कारण यही दवाएं बांटी जा रही हैं।
प्रतिनिधि को मिलीं एक्सपायरी दवाएं – स्थानीय प्रतिनिधि को अपने परिचित का इलाज कराते समय ओपीडी से एक चार महीने पुरानी एक्सपायरी डेट की दवा मिली। संदेह के आधार पर जब स्टोर में उपलब्ध दवाईयों का निरीक्षण किया गया तो स्टोर में दस से पन्द्रह किस्म की दवाएं और एक्यपायरी डेट की मिलीं। जबकि कुछ इसी माह में एक्सपायर होने वाली थीं। जिसके चलते यह मामला सामने आ पाया।