डेंगू का हॉटस्पॉट बना पटना, नए मामलों की संख्या में इजाफा

डेंगू का हॉटस्पॉट बना पटना, नए मामलों की संख्या में इजाफा

बिहार में इन दिनों डेंगू कहर बरपा रहा है। मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। राजधानी पटना के अतिरिक्त भागलपुर, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, भागलपुर, सारण और वैशाली जैसे तमाम जिले डेंगू से प्रभावित घोषित हो चुके हैं। वहीं अकेले पटना डेंगू का हॉटस्पॉट बन गया है। यहां के सरकारी अस्पताल में भर्ती होने वाले डेंगू के मरीजों की संख्या 100 के करीब जा पहुंची है।

पटना में डेंगू के मरीजों की संख्या पहुंची 3,029

पूरे बिहार में डेंगू के कुल मरीजों की संख्या 8,864 हो चुकी है। वहीं अकेले पटना में मरीजों की संख्या 3,029 है। पटना के चार मेडिकल कॉलेज अस्पातलों में 97 मरीज भर्ती हैं। पटना एम्स में 22 मरीज, आईजीआईएमएस में 24 मरीज, पीएमसीएच 28 मरीज और एनएमसीएच में 23 मरीज भर्ती हैं। बिहार के 12 मेडिकल कॉलेजों में कुल 277 डेंगू मरीज भर्ती हैं।

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र में अल्प्राजोलम गोलियां और प्रतिबंधित कफ सिरप जब्त, दो गिरफ्तार

इस साल डेंगू बीमारी प्रारंभ होने के पूर्व स्वास्थ्य विभाग ने जिला स्तर पर मेडिकल कॉलेज अस्पतालों के साथ ही अन्य श्रेणी के सरकारी अस्पतालों में अलग से डेंगू वार्ड की व्यवस्था की। जिलों के सिविल सर्जनों को नगर निकायों के सहयोग से नियमित फॉगिंग और लार्वीसाइट के छिड़काव के निर्देश दिए गए। लेकिन विभाग की तमाम तैयारियां धरी की धरी रह गई।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्पलाइन नंबर 

डेंगू को लेकर पूरे पटना में स्वास्थ्य विभाग की ओर से राज्य डेंगू नियंत्रण कक्ष बनाया गया है। ये 24 घंटे मरीजों की सहायता के लिए उपलब्ध है। डेंगू कंट्रोल रुम का हेल्पलाइन नंबर 0612-2951964 स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी किया गया है। इस नंबर पर लोग कॉल करके अस्पतालों में उपलब्ध बेड और ब्लड बैंकों में प्लेटलेट्स की उपलब्धता की जानकारी ले सकते हैं।

 

 

Advertisement