मां ने बेटे के चार अंग निम्स हाॅस्पीटल को दान किए

निम्स हॉस्पिटल में क्रॉस मैच नही होने के कारण उन अंगों को तत्काल ग्रीन कॉरिडोर बना कर एस एम एस हॉस्पिटल सी के बिरला दुर्लभ जी किम्स सिकंदराबाद हॉस्पिटल में भिजवाया गया
– निम्स के निदेशक डा. पंकज सिंह ने किया दानदाता का सम्मान

जयपुर(कैलाश शर्मा):- अंगदान महादान योजना के तहत निम्स परिवार की प्रेरणा से तिजारा निवासी बबीता ने अपने बेटे शरीर के चार प्रमुख अंग निम्स हाॅस्पीटल को दान कर दिए। उनका 28 वर्षीय पुत्र 14 नवंबर को सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हो गया था। उसे 15 नवंबर को निम्स हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। उसका ब्रेन डेड हो गया था।

इसकी जानकारी मिलने पर निम्स हॉस्पिटल के निदेशक डा. पंकज सिंह ओर मोहन फाउंडेशन के गोविंद गुरबानी ने उसके परिजनों से संपर्क कर उन्हें अंगदान के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि इसके अंगों से चार जिंदगी बचाई जा सकती हैं। इससे प्रेरित होकर युवक की मां एवं उसके परिजनों ने अभूतपूर्व साहस और समाज सेवा का अद्वितीय उदाहरण प्रस्तुत करते अपने बेटे के लिवर, किडनी, हार्ट और लंग्स निम्स हाॅस्पीटल को दान कर दिए।

इस दौरान युवक की माता कलगांव, तिजारा निवासी बबीता देवी गमगीन माहौल में बताया कि इन अंगों के रूप में उसका बेटा चार शरीरों में जिंदा रहेगा। यही सोचकर हमने बेटे के सभी अंगदान कर दिए। इस दौरान डा. पंकज सिंह ने निम्स हॉस्पिटल के संस्थापक डा. बी एस तोमर के प्रतिनिधि के रूप में अंगदान करने वाले युवक की परिजनों को आभार पत्र प्रदान किया और अंग वस्त्र प्रदान कर उन्हें सम्मानित किया। आभार व्यक्त करते हुए डा. पंकज सिंह ने कहा कि इस प्रशस्ति पत्र के जरिए अंगदान करने वाले पूरे परिवार का इलाज निम्स हॉस्पिटल में ताउम्र निःशुल्क किया जाएगा।
भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता सर्वेश्वर शर्मा ने इसे मानवता की सच्ची सेवा बताया। इस दौरान पीआरओ दिनेश भागर्व, जोनी कुमार आदि मौजूद रहे।

अंगों के बाॅक्स- को
ग्रीन कोरीडोर बनाकर भेजे गए ओपचारिकताएं पूरी करने के बाद जिला कलेक्टर के निर्देश पर चारों अंगों को विभिन्न अस्पतालों में भिजवाने के लिए ग्रीन कॉरिडोर स्थापित किया गया।इन अंगों से एक किडनी एस एम एस हॉस्पिटल एक किडनी सी के बिरला लिवर दुर्लभ जी हॉस्पिटल भेजा गया एवं फेंफड़ों को किम्स हॉस्पिटल सिकंदराबाद भेजा गया इन सभी अंगों को आज ही अन्य रोगियों के शरीर में ट्रांसप्लांट किया जाएगा इस पुण्य कार्य को डॉ विनय तोमर ,डॉ राजीव माथुर ,डॉ दीपक तिवारी ,डॉ सौरभ भार्गव ,डॉ निसार अहमद ,डॉ लोकेश शर्मा एवं डॉ महक्षित भाट की टीम ने किया ।

Advertisement