निजी अस्पताल में ऑक्सीजन सिलेंडर फटा, एक की मौत

सागर (मध्यप्रदेश)। सागर जिले में बटालियन रोड पर स्थित एक प्राइवेट अस्पताल में ऑटो से ऑक्सीजन सिलेंडर उतारते समय फट गया। इस विस्फोट से एक मजदूर की मौत तथा एक के घायल होने का समाचार है। हादसे से अस्पताल व आसपास के क्षेत्र में हडक़ंप मच गया।

जानकारी मिली है कि ऑटो में सिलेंडर भरकर मजदूर राय अस्पताल में उतारने आए थे। इसी दौरान रूपेंद्र कोरी नामक मजदूर ने सिलेंडर को नीचे उतारा। तभी अचानक से सिलेंडर में तेज आवाज के साथ विस्फोट हो गया। ब्लास्ट इतना तेज था कि रूपेंद्र कोरी मजदूर की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसका साथी जितेंद्र घायल हो गया। घायल मजदूर को तत्काल गंभीर हालत में इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया।

मौके पर पहुंची पुलिस

एएसपी लोकेश सिन्हा के अनुसार गैस सिलेंडर विस्फोट मामले की सूचना मिलते ही मकरोनिया पुलिस समेत विभाग के कई बड़े अधिकारी मौके पर पहुंचे और जांच शुरू कर दी। एएसपी ने बताया कि फिलहाल जांच की जा रही है। इस घटना के जिम्मेदार के खिलाफ मामला दर्ज कर सख्त कार्रवाई की जाएगी।
उधर, राय अस्पताल प्रबंधन ने इस घटना के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर सप्लायर कंपनी को जिम्मेदार ठहराया है। अस्पताल के प्रतिनिधि आकाश बजाज का कहना है कि गाड़ी से सभी ऑक्सीजन सिलेंडर उतार लिए गए थे। आखिरी सिलेंडर उतारते समय यह हादसा हुआ है। संभव है कि सिलेंडर उतारते समय मजदूर की लापरवाही से यह गिर गया हो, जिससे हादसा हुआ। इस घटना के लिए सप्लायर एजेंसी ही जिम्मेदार है।

परिजनोंं ने किया चक्काजाम

उधर, निजी अस्पताल परिसर में ऑक्सीजन सिलेंडर फटने से हुई मजदूर की मौत के मामले में पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने शव उसके परिवार वालों को सौंप दिया। परिजन शव को लेकर घर पहुंचे और सागर-बीना मार्ग पर कृषि उपज मंडी के पास शव रखकर मांगों को लेकर चक्काजाम कर दिया। चक्काजाम की सूचना मिलते ही पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे। लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराने की कोशिश की। प्रदर्शनकारी मृतक के परिवार को 1 करोड़ रुपए सहायता राशि और परिवार के एक व्यक्ति को नौकरी देने की मांग पर अड़ रहे।

Advertisement