डॉक्टर 9 दिसंबर को कलम छोड़ हड़ताल करेंगे

रोहतक। हरियाणा राज्य में डॉक्टर 9 दिसंबर को कलम छोड़ हड़ताल करेंगे। मांगों को लेकर यह हड़ताल सिविल मेडिकल सर्विसेज एसोसिएशन के बैनर तले की जाएगी। इस दिन दो घंटों के लिए सुबह 9 बजे से 11 बजे तक कलम छोड़ हड़ताल रहेगी। इस संबंध में डाक्टरों ने बैठक कर यह फैसला लिया है। डॉक्टर एसोसिएशन अपनी चार मांगो को बार- बार लिखित में दे चुका है। इसके बावजूद मांगें पूरी नहीं की गई। अब वे आंदोलन करने पर विचार कर रहे हैं।

रोहतक में हुई बैठक में लिया फैसला

यह जानकारी हरियाणा सिविल मेडिकल सर्विसेज एसोसिएशन अध्यक्ष डा. राजेश ख्यालिया, महासचिव डाक्टर अनिल यादव, मीडिया कोर्डिनेटर डा. अमरजीत चौहान ने दी। इस संबंध में एक राज्यस्तरीय बैठक रोहतक में की गई थी। इसमें सर्वसम्मति से 9 दिसंबर को दो घंटे की कलम छोड़ हड़ताल का फैसला लिया गया है। अध्यक्ष डा. ख्यालिया ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग में विशेषज्ञों के लिए अलग से कैडर बनाने की मांग की जा रही है। इसको सीएम की घोषणा में शामिल किया गया था। दो साल बीत जाने के बाद भी कुछ नहीं हुआ।

कई जिलों में स्पेशलिस्ट डॉक्टर नहीं

उन्होंने बताया कि कईं जिलों फतेहाबाद, कैथल, जींद जैसे जिलों में स्पेशलिस्ट डॉक्टर नहीं हैं। कईं स्थानों पर तो गायनी की डॉक्टर तक नहीं है। इन जिलों में भारी दिक्कत हो रही है। एसोसिएशन की ओऱ से सेहत मंत्री अनिल विज को भी लिखित में दिया गया था। मंत्री ने 2021 में पत्र जारी कर साफ कर दिया था कि सीधे एसएमओ की भर्ती नहीं होगी। लेकिन गुपचुप तरीके से इस तरह का प्रस्ताव दोबारा शुरू कर दिया गया है। इस बारे में भी एसोसिएशन ने डीजी हेल्थ से मिलकर आपत्ति की है।

बैठक में बनाएंगे रणनीति

सर्विस में डॉक्टरों को जिस वक्त पीजी करने जाना होता है, तो एक-एक करोड़ के दो बांड भरने पड़ते हैं। एसोसिएशन चाहती है कि पुरानी पॉलिसी को लागू कर दिया जाए। पहले यह राशि पचास लाख थी। अध्यक्ष का का कहना है कि इस बार हड़ताल के बाद भी मांग नहीं मानी गई, तो वे आगे की रणनीति बनाएंगे।

Advertisement