दवा खरीद के नाम पर 77 लाख का घोटाला

मुजफ्फरपुर

प्रदेश में इन दिनों सरकार दवाओं को लेकर सचेत हो गई है। बीते दिनों जिलें में दवा खरीद के नाम पर 77 लाख का दवा घोटाला हुआ है। मुजफ्फरपुर, पश्चिमी चंपारण, सारण व पूर्णिया में दवा खरीद के नाम पर एजेंसियों ने तीन से चार साल के दौरान घोटाले का खेल किया है।
जानकारी के अनुसार अकेले मुजफ्फरपुर में साढ़े 15 लाख रुपए की गड़बड़ी की गई है। पीएजी की रिपोर्ट को आधार बनाते हुए सीएजी ने सरकार से कार्रवाई की अनुशंसा की है। मामला विधानसभा की लोक लेखा समिति को सौंपा गया

है। संबंधित जिलों से एक माह में रिपोर्ट मांगी गई है। मुजफ्फरपुर, पश्चिमी चंपारण, सारण व पूर्णिया की जिला स्वास्थ्य समितियों ने दवा आपूर्ति करने वाली 20 एजेंसियों को दो करोड़ 35 लाख 54 हजार 440 रुपए एडवांस दिए गए थे।

एजेंसियों ने मात्र एक करोड़ 58 लाख 51 हजार 989 रुपए की ही दवा की आपूर्ति की। इसके बाद बचे 772461 रुपये की दवा का कहीं कोई अता-पता नहीं है।