आईआईएल ने बच्चों के लिए खसरा-रूबेला वैक्सीन माबेला लॉन्च की

मुंबई। वैक्सीन निर्माता कंपनी आईआईएल (इंडियन इम्यूनोलॉजिकल्स) ने बच्चों के लिए खसरा और रूबेला वैक्सीन माबेला लॉन्च की है। बता दें कि इसकी घोषणा तमिलनाडु के उधगमंडलम (ऊटी) में आईआईएल डिवीजन ह्यूमन बायोलॉजिकल इंस्टीट्यूट (एचबीआई) के समारोह में की गई थी।

बताया गया है कि व्यापक मानव नैदानिक परीक्षणों के जरिए यह टीका सुरक्षित और प्रभावी साबित हुआ है। आईआईएल ने कहा कि घातक खसरा और रूबेला पर नियंत्रण की तत्काल जरूरत है। यह वैश्विक स्तर पर हर साल करीब एक लाख बच्चों की जान ले लेता है।

अभयरब सबसे ज्यादा बिकने वाली एंटी-रेबीज वैक्सीन

वैक्सीन निर्माता ने कहा कि एचबीआई ने 1998 में ही देश का पहला सुरक्षित वेरो-सेल रेबीज वैक्सीन अभयरब विकसित किया था। दर्दनाक तंत्रिका ऊतक टीके को चरणबद्ध तरीके से ख़त्म करने के लिए यह भारत सरकार को राह दिखा रहा था। अभयरब आज दुनिया में सबसे ज्यादा बिकने वाली एंटी-रेबीज वैक्सीन है। इसके बाद, एचबीआई ने बच्चों के लिए डीपीटी, पेंटावेलेंट वैक्सीन, टीटी, हेपेटाइटिस-बी एमआर और टीडी जैसे कई टीके मार्केट में उतारे हैं।

आईआईएल के प्रबंध निदेशक के.आनंद कुमार ने कहा कि कंपनी केंद्र के सार्वभौमिक टीकाकरण कार्यक्रम के लिए मानव टीकों के सबसे बड़े आपूर्तिकर्ताओं में से एक है। डिप्टी एमडी प्रियब्रत पटनायक ने कहा कि आईआईएल के पास राष्ट्रीय जरूरतों को पूरा करने के लिए उनके पास पर्याप्त बुनियादी ढांचा है।

Advertisement