एसएमएस अस्पताल का औचक निरीक्षण, 3 नर्सिंगकर्मी सस्पेंड, सुपरिंटेंडेंट को फटकार

एसएमएस अस्पताल

जयपुर (राजस्थान)। एसएमएस अस्पताल के औचक निरीक्षण के दौरान लापरवाही के चलते तीन नर्सिंगकर्मी सस्पेंड कर दिए गए हैं। वहीं, अस्पताल में अव्यवस्थाएं मिलने पर सुपरिंटेंडेंट को भी कड़ी फटकार मिली।

सीएम ने अस्पताल की व्यवस्थाओं का जायजा लिया

जानकारी अनुसार, मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने सूबे के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल सवाई मानसिंह हॉस्पिटल (एसएमएस) का औचक निरीक्षण किया। सोमवार को सुबह करीब 9 बजे वे बिना किसी प्रशासन को सूचना दिए अचानक एसएमएस अस्पताल पहुंच गए। सीएम ने अस्पताल की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। अस्पताल में डॉक्टर्स, नर्सिंग स्टाफ और प्रशासनिक अधिकारियों का अटेंडेंस रजिस्टर चेक किया। लापरवाही के चलते तीन नर्सिंगकर्मी सस्पेंड कर दिए गए। गैरहाजिर मिले कर्मचारियों के खिलाफ एक्शन लेने की भी बात कही। सीएम ने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं के प्रति लापरवाही किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

चिकित्सा सुविधाओं की जानकारी ली

सीएम भजनलाल शर्मा सीधे एसएमएस अस्पताल के बांगड़ परिसर में पहुंचे। वहां उन्होंने वार्डों का निरीक्षण किया। मरीजों से बातचीत कर चिकित्सा सुविधाओं की जानकारी ली। उन्होंने कोटेज वार्ड का दौरा भी किया। इस दौरान एसएमएस के अधीक्षक डॉ. अचल शर्मा ट्रॉमा वार्ड में मरीजों को देख रहे थे। सीएम के औचक निरीक्षण की सूचना मिलते ही वे तुरंत पैदल ही एसएमएस अस्पताल पहुंच गए। तब तक सीएम कई वार्डों में विजिट कर चुके थे। सीएम ने उन्हें व्यवस्थाएं सुधारने के निर्देश दिए।

गंदगी देख अधीक्षक को लगाई फटकार

एसएमएस अस्पताल

अस्पताल के निरीक्षण के दौरान वहां काफी गंदगी पड़ी मिली। गंदगी को देखकर सीएम भजनलाल शर्मा ने काफी नाराजगी जताई। इस पर उन्होंने अधीक्षक को फटकार लगाई। सीएम ने बांगड़ परिसर में खुले में बैठे मरीजों और उनके तीमारदारों से भी बात की। वहां मौजूद डॉक्टरों ने कहा कि अस्पताल में वेटिंग रूम की व्यवस्था है लेकिन धूप सेकने के लिए कुछ मरीज और परिजन जानबूझकर वेटिंग रूम में जाना नहीं चाहते।

मीटिंग प्लान तैयार करने के निर्देश

सीएम भजनलाल शर्मा ने मुख्य बिल्डिंग का भी दौरा किया। दवा काउंटर, चिरंजीवी एडमिशन काउंटर समेत अन्य जगह का दौरा कर स्टाफ की स्थिति को जाना। उन्होंने मौके पर मौजूद अधिकारियों को अस्पताल की व्यवस्थाएं सुधारने का एक्शन प्लान तैयार करने के निर्देश दिए।

Advertisement