एस्ट्राजेनेका फार्मा ने कैंसर की दवा बनाने वाली कंपनी ग्रेसेल को खरीदा

नई दिल्ली। एस्ट्राजेनेका फार्मा ने कैंसर के इलाज की दवा बनाने वाली चाइनीज कंपनी सेल थेरेपी डिवेलपर ग्रेसेल बायोटेक्नोलॉजीज को खरीद लिया है। बताया जा रहा है कि इस कंपनी का अधिग्रहण 1.2 अरब डॉलर में हुआ है। इस डील के जरिेये एस्ट्राजेनेका फार्मा मेडिकल इनोवेशन को बढ़ावा देगी।

एक अरब डॉलर कैश का भुगतान होगा

जानकारी अनुसार डील के तहत एस्ट्राजेनेका शंघाई की कंपनी ग्रेसेल को 2 रुपये प्रति शेयर के हिसाब से खरीदेगी। इस तरह कुल 1 अरब डॉलर कैश का भुगतान किया जाएगा। फार्मा कंपनी की तरफ से बताया गया है कि वह कुछ रेगुलेटरी शर्तों को पूरा करने के बाद अतिरिक्त शेयरों को भी खरीदेगी। इस तरह डील की कुल वैल्यू 1.2 अरब डॉलर हो जाएगी।

मेडिकल इनोवेशन का लाभ उठाना मुख्य ध्येय

एस्ट्राजेनेका फार्मा

बता दें कि चीन एस्ट्राजेनेका के लिए दूसरा सबसे बड़ा बाजार है। इस कंपनी के लिए सबसे बड़ा बाजार अमेरिका है। एस्ट्राजेनेका के अधिकारी पास्कल सोरियट ने पहले कहा था कि फर्म चीन के मेडिकल इनोवेशन का लाभ लेने के लिए वहां की कई कंपनियों के साथ मिलकर काम करने को तैयार है।

ग्रेसेल के शेयरों की परफॉर्मेंस काफी अच्छी है। इस साल कंपनी के शेयरों में अब तक तकरीबन 170 पर्सेंट का चढ़ाव दिखाई दिया है।

Advertisement