अवैध क्लीनिक पर सीएम फ्लाइंग की रेड, दवाइयां सील कर आरोपी को भेजा जेल

बेरी (झज्जर)। अवैध क्लीनिक पर सीएम फ्लाइंग की रेड का समाचार है। टीम ने यहां अनियमितताएं मिलने पर मेडिकल उपकरण और दवाइयां सील कर दी। युवक को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

जानकारी अनुसार थाना बेरी के अंतर्गत गांव छुछकवास में कई सालों से एक क्लीनिक अवैध रूप से चलाए जाने की खबर मिली थी। शिकायत मिलने पर सीएम फ्लाइंग की टीम ने इस क्लीनिक पर दबिश दी। टीम को मौके पर भारी मात्रा में दवाइयां बरामद हुई। टीम ने इन दवाओं को कब्जे में लेकर जांच के लिए पुलिस को सौंप दिया।

दवाइयां की सील

टीम ने क्लीनिक के संचालक से दस्तावेज मांगे तो वह कुछ नहीं दिखा पाया। इसके बाद टीम ने क्लीनिक पर रखे मेडिकल उपकरण और अंग्रेजी दवाइयों को सील कर पुलिस को सौंप दिया। इस कार्रवाई के दौरान छुछकवास पीएचसी इंचार्ज डॉ. प्रिया भी साथ रही।

घर में चल रहा था क्लीनिक

गांव छुछकवास निवासी शमशेर पिछले कई सालों से घर में दुकान बना कर क्लीनिक चला रहा था। वह क्लीनिक में आने वाले मरीजों को दवाइयां देने के अलावा मरीजों को भर्ती भी कर लेता था। वह अपने यहां भर्ती मरीजों का इलाज बिना किसी वैध डिग्री के कर रहा था। सीएम फ्लाइंग की टीम एसआई रामनिवास और पूनम के नेतृत्व में गुप्तचर विभाग की टीम के साथ क्लीनिक पहुंची। क्लीनिक संचालक शमशेर अपने दस्तावेज नहीं दिखा पाया। प्रारंभिक जांच में सामने आया कि शमशेर पिछले कई सालों से अवैध रूप से क्लीनिक चला रहा है।

जब्त दवाइयों की होगी जांच

एसआई रामनिवास ने बताया कि अवैध रूप से चल रहे क्लीनिक से दवाइयां सील करके पुलिस को सौंप दी है। इन दवाइयों की फूड एंड ड्रग इंस्पेक्टर से जांच करवाई जाएगी।

उपकरण व दवाइयों को सील करके पुलिस को सौंप दिया

सीएम फ्लाइंग में शामिल एसआई रामनिवास ने बताया कि छुछकवास में अवैध रूप से चल रहे क्लीनिक की सूचना मिली थी। टीम ने क्लीनिक पर छापेमारी की तो क्लीनिक चलाने वाला युवक कोई क्लीनिक के कोई कागजात नहीं दिखा पाया और अवैध रूप से क्लीनिक पर दवाइयां भी मिली है। उपकरण व दवाइयों को सील करके पुलिस को सौंप दिया है।

युवक को न्यायिक हिरासत में भेज दिया

चौकी प्रभारी छुछकवास प्रवीन कुमार के अनुसार पीएचसी इंचार्ज डॉ. प्रिया ने गांव छुछकवास में अवैध रूप से क्लीनिक चलाने की शिकायत दी थी। आरोपी क्लीनिक संचालक के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी को जिला अदालत में पेश किया गया। कोर्ट के आदेश पर युवक को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

Advertisement