सीरप का सेंपल मिला फेल, मेडिकल स्टोर मालिक पर 1.50 लाख रुपए का लगाया जुर्माना

होलसेल सप्लायर
Cough Syrup

संभल (मुरादाबाद)। कफ सीरप का सेंपल लैब जांच में फेल पाया गया है। इसके चलते आरोपी मेडिकल स्टोर मालिक पर 1.50 लाख रुपए का जुर्माना लगाने का समाचार है।

मेडिकल स्टोर मालिक पर लगाया जुर्माना

बता दें कि औषधि प्रशासन विभाग की टीम ने करीब सवा साल पहले आयुर्वेदिक दवा के लाइसेंस पर एलोपैथिक दवा बेचने की शिकायत पर रेड की थी। विभाग की टीम ने मौके से एक करोड़ की दवाई जब्त कर सैंपल को जांच के लिए लैब में भेजा था। अब जांच रिर्पोट में एक सीरप नकली पाया गया है। अपर जिलाधिकारी न्यायालय ने आरोपी फर्म के मालिक सरायतरीन के मोहल्ला भालेभाज खां निवासी तेजप्रकाश पर डेढ़ लाख रुपये का जुर्माना लगाया है।

यह है मामला

औषधि प्रशासन विभाग की टीम ने तीन नवंबर 2022 को मुरादाबाद सहायक आयुक्त दीपक शर्मा के नेतृत्व में संभल में कई मेडिकल स्टोरों पर रेड की थी। पहली कार्रवाई शहजादी सराय स्थित मैक्सन फार्मा पर की थी। वहां से बड़ी मात्रा में दवाएं बरामद की गई थीं। मौके से प्रसिद्ध कंपनी के रैपर व अन्य सामग्री बरामद हुई थी।

औषधि निरीक्षक ने दर्ज कराई थी पुलिस में रिपोर्ट  

दूसरी कार्रवाई रामबिहार कालोनी में स्थित फार्मा के गोदाम पर की थी। जहां से दर्जनों प्रकार की बड़ी मात्रा में दवाएं रखी मिली थीं। टीम की छानबीन में करीब एक करोड़ रुपए कीमत की दवाएं जब्त की गई थी। इस संबंध में मुरादाबाद की औषधि निरीक्षक उर्मिला वर्मा ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसमें तेज प्रकाश उर्फ रामबाबू और इसका बेटा शुभम गिरफ्तार किए गए थे।

जांच में सीरप नकली पाया गया

सीरप का सेंपल

ले में मुरादाबाद के विरेंद्र पाल, संभल निवासी निशी रानी और प्रमोद कुमार सिंह को आरोपी बनाया गया था। जांच में एक सीरप नकली पाया गया है। इस मामले में अपर जिलाधिकारी न्यायालय ने आरोपी फर्म संचालक पर डेढ़ लाख रुपये को जुर्माना लगा दिया है।

Advertisement