प्राइवेट अस्पताल पर पुलिस का ताला खोल स्वास्थ्य विभाग ने किया सील

कान्हा हॉस्पिटल

रामपुर। प्राइवेट अस्पताल को स्वास्थ्य विभाग ने सील कर दिया है। बेलांव बाजार स्थित ओम साईं हॉस्पिटल को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी ने सीलिंग कार्रवाई की। यह कार्रवाई सिविल सर्जन डॉ. मीना कुमारी के निर्देश पर की गई। कार्रवाई के दौरान बेलांव थाने की पुलिस, पीएचसी के डॉ. चंदन कुमार, स्वास्थ्य प्रबंधक मोहम्मद इमरान, थानाध्यक्ष अनिश कुमार आदि मौजूद रहे।

यह है मामला

बेलांव के ओम साईं हॉस्पिटल में गर्भवती महिला का ऑपरेशन किया गया था। इस दौरान ओरा निवासी प्रियंका देवी व उसके पेट में पल रहे बच्चे की मौत हो गई थी। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने हॉस्पिटल पर ताला जड़ दिया था। मृतका के पति ने अस्पताल के डॉक्टर व एक आशा कार्यकर्ता के खिलाफ लापरवाही बरतने की एफआईआर दर्ज करवाई है। अब स्वास्थ्य विभाग ने पुलिस का ताला खुलवाकर अस्पताल के अंदर जांच की। इसके बाद अस्पताल पर अपना ताला जड़ दिया।

अस्पताल में की जांच

पीएचसी प्रभारी ने बताया कि हॉस्पिटल को सील करने से पहले उसके अंदर के कई बिंदुओं पर जांच की गई है। जांच के दौरान अस्पताल में कई मरीजों के नाम की पर्ची मिली। कई प्रकार की दवाइयां, अल्ट्रासाउंड मशीन आदि पाई गई। इनकी लिस्ट तैयार कर ली है। इसकी रिपोर्ट सिविल सर्जन को भेजी जाएगी। फिलहाल इस अस्पताल को सील किया जा रहा है। सिवलि सर्जन के आदेश पर आगामी कार्रवाई की जाएगी।

निजी अस्पतालों की होगी जांच

पीएचसी प्रभारी डॉ. रमेश कुमार ने बताया कि क्षेत्र में बिना निबंधन के कई अस्पताल संचालित किए जा रहे हैं। यहां मरीजों को भर्ती कर इलाज करने के साथ ऑपरेशन तक किया जा रहा है। ऐसे अस्पतालों संचालन पर रोक लगाने के लिए जांच की जाएगी। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा गठित मेडिकल टीम रामपुर प्रखंड क्षेत्र में संचालित किए जा रहे निजी अस्पतालों की जांच करेगी। जांच के दौरान सुविधा, मानक व संचालन नहीं पाए जाने पर अस्पताल संचालक के खिलाफ कार्रवाई होगी।

Advertisement