मेडिकल स्टोरों पर रेड, 12 दवाओं की बिक्री पर लगाई रोक, 18 को नोटिस

रायबरेली। मेडिकल स्टोरों पर छापामारी के दौरान 12 दवाओं की बिक्री पर रोक लगा दी गई है। वहीं, 18 संचालकों को नोटिस थमाए गए हैं। यह छापामारी सलोन क्षेत्र में औषधि व आबकारी विभाग की संयुक्त टीम ने की।

12 दवाओं की बिक्री पर लगाई रोक

औषधि व आबकारी विभाग की संयुक्त टीम ने सलोन क्षेत्र में छह मेडिकल स्टोरों पर रेड की। टीम ने
अल्कोहल युक्त दवाओं की जांच करते हुए दुकानों से 12 दवाओं की बिक्री को प्रतिबंधित कर दिया। टीम ने चार संदिग्ध दवाओं के सैंपल भी लिए हैं। बताया गया कि स्टोरों में टिंचर व अल्कोहल युक्त दवाइयां बरामद नहीं हुईं। इस कार्रवाई के चलते 14 मेडिकल स्टोरों के शटर डाउन हो गए। टीम ने 18 मेडिकल स्टोर संचालकों को नोटिस भी थमाए हैं।

यह है मामला

डीएम के निर्देश पर गठित टीम में ड्रग इंस्पेक्टर शीवेंद्र प्रताप सिंह, सलोन के आबकारी निरीक्षक रूपेंद्र निर्मल और पुलिस ने छापामारी की। टीम ने सलोन क्षेत्र में मेडिकल स्टोरों पर दवाओं को जांचा। रवि मेडिकल स्टोर से एक दवा का सैंपल लेने के साथ तीन दवाओं की बिक्री पर रोक लगा दी। कौशल मेडिकल स्टोर में तीन दवाओं की बिक्री रोकते हुए एक दवा का संैपल लिया।

टिंचर व अल्कोहल युक्त दवाएं नहीं मिली

प्रगति मेडिकल स्टोर करहिया में तीन दवाओं की बिक्री रोकी गई। वहीं, कृष्णा मेडिकल स्टोर सलोन में दो दवाओं के सैंपल लेने के साथ तीन दवाओं की बिक्री रोकी। विजय फार्मा व गुप्ता मेडिकल स्टोर का भी निरीक्षण किया गया। किसी भी दुकान पर टिंचर व अल्कोहल युक्त दवाएं बरामद नहीं हुईं। प्रगति मेडिकल स्टोर से फिजीशियन सैंपल बरामद किए गए।

छापामार टीम को देखकर सलोन और करहिया क्षेत्र में दवा विक्रेताओं में हडक़ंप मच गया। गौरव मेडिकल स्टोर, दीप मेडिकल स्टोर, आस्तीक मेडिकल स्टोर, अमित मेडिकल स्टोर, नवीन मेडिकल स्टोर, मिश्रा मेडिकल स्टोर, प्रकाश मेडिकल स्टोर, जनता मेडिकल स्टोर समेत 14 मेडिकल स्टोर संचालक शटर गिराकर चले गए।

दवा दुकानदारों को नोटिस

ड्रग इंस्पेक्टर शीवेंद्र प्रताप सिंह के अनुसार दुकानें बंद करके भागे 14 मेडिकल स्टोर संचालकों को नोटिस दिया गया है। इसके अलावा कौशल, प्रगति, कृष्णा व रवि मेडिकल स्टोर के संचालकों को भी खामियां मिलने पर नोटिस दिए गए हंै। उनहोंने बताया कि जांच अभियान जारी रहेगा।

Advertisement