बंद फैक्टरी में अवैध रूप से दवाओं के निर्माण का भंडाफोड़, छापा मारकर की जब्त

रुडक़ी। बंद फैक्टरी में अवैध रूप से दवाओं का निर्माण करने का भंडाफोड़ किया गया है। एसटीएफ ने रुडक़ी के गंगनहर क्षेत्र में बंद पड़ी फैक्टरी पर रेड की। यहां ब्रांडेड कंपनियों के नाम से दवाएं अवैध तौर पर बनाकर बेची जा रही थीं। खास बात यह है कि आरोपी फैक्टरी मालिक के खिलाफ पांच साल पहले भी कार्रवाई हो चुकी है। इसके बावजूद उसने यहां फिर से काम शुरू कर दिया। फैक्टरी मालिक के खिलाफ केस दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया है।

ब्रांडेड कंपनियों की दवाओं के मिले रैपर

एसटीएफ को सूचना मिली थी कि माधवपुर रोड पर बंद फार्मा फैक्टरी में अवैध रूप से दवाएं बनाई जा रही हैं। सूचना के आधार पर ड्रग विभाग को साथ लेकर जांच की गई। एसएसपी आयुष अग्रवाल ने बताया कि फैक्टरी में काफी कच्चा माल पड़ा था। वहां कई ब्रांडेड कंपनियों की दवाओं के रैपर भी पाए गए।

उन्होंने बताया कि इस फैक्टरी का मालिक शाहरुख खान है। पुलिस ने फैक्टरी से बरामद माल को जब्त कर लिया है। एसएसपी के अनुसार आरोपी शाहरुख खान केवल बारहवीं तक पढ़ा है। उसने अपने टेक्निकल स्टाफ केमिस्ट नीति त्यागी और सगरेंद्र कौर की फार्मा डिग्री के आधार पर ड्रग विभाग से लाइसेंस लिया था।

आरोपी फैक्टरी मालिक को भेजा जेल

बंद फैक्टरी

इस लाइसेंस की वैधता 2018 तक ही थी। ऐसे में फैक्टरी को बंद कर दिया गया। उसके बाद फिर से उसने यहां काम शुरू कर दिया। 2019 में ड्रग विभाग ने छापा मारकर इस फैक्टरी को बंद कराया और शाहरुख खान के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया। लेकिन, वह बाज नहीं आया और उसने फिर से वही काम शुरू कर दिया। आरोपी के खिलाफ न्यायालय से वारंट भी जारी हुआ था। आरोपी की तलाश कर बृहस्पतिवार शाम को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी को कोर्ट में पेश करके जेल भेज दिया है।

Advertisement