दवा एजेंसी पर छापामारी, एक्सपायर्ड इंजेक्शन मिलने पर की सील

रायबरेली। दवा एजेंसी पर छापामारी के दौरान एक्सपायर्ड इंजेक्शन मिलने पर उसे सील कर दिया गया। औषधि व आबकारी विभाग की संयुक्त टीम ने ऊंचाहार में अल्कोहल युक्त दवाओं की जांच के लिए छापेमारी की थी। एक दवा एजेंसी से 45 बोतल स्प्रिट बरामद होने के बाद उसे सील कर दिया गया।

वर्ष 2021 में एक्सपायर्ड 87 इंजेक्शन फ्रिज में रखे मिले। सभी को नष्ट कराया गया। जांच के दौरान छह दवाओं के नमूने भरने के बाद 10 दवाओं की बिक्री रोक दी। पांच संचालक मेडिकल स्टोर बंद करके भाग गए। आठ दवा विक्रेताओं को नोटिस देकर जवाब मांगा गया है।

यह है मामला

ड्रग इंस्पेक्टर शीवेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि अल्कोहल युक्त दवाओं की जांच के लिए ऊंचाहार में छापे मारे। जांच के दौरान यश एजेंसी में फिजीशियन सैंपल बरामद हुए। यहां 45 बोतल स्प्रिट मिली। स्प्रिट में 70 प्रतिशत अल्कोहल पाया गया। इसके चलते स्प्रिट को सील कर दिया गया। उक्त एजेंसी से दो दवाओं के सैंपल लिए गए हैं। इसी के साथ ही तीन दवाओं की बिक्री पर रोक लगा दी गई है।

उत्तम एजेंसी के फ्रिज में एक्सपायर्ड इंजेक्शन बरामद

उन्होंने बताया कि उत्तम एजेंसी के फ्रिज में एक्सपायर्ड इंजेक्शन मिले हैं। ये इंजेक्शन वर्ष 2021 में ही एक्सपायर्ड हो गए थे। सभी 87 इंजेक्शनों को नष्ट कराने के साथ ही दो दवाओं के सैंपल लेकर चार दवाओं की बिक्री पर रोक लगा दी है।

अनिल मेडिकल स्टोर से लिए सैंपल

अनिल मेडिकल स्टोर से दो दवाओं के सैंपल लेने के अलावा तीन दवाओं की बिक्री पर रोक लगाई है। यहां कई खामियां मिली।

मेडिकल स्टोर संचालकों को नोटिस

दवा एजेंसी

शीवेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि उपरोक्त तीनों दवा दुकानदारों को नोटिस थमाए गए हंै। इनके अलावा, छापामारी की सूचना मिलने पर अपनी दुकानें बंद करके भागे रवी मेडिकल स्टोर, वीरेंद्र मेडिकल स्टोर, सम्राट मेडिकल स्टोर, त्रिपुरारी एजेंसी समेत पांच दवा दुकानदारों को भी नोटिस देकर जवाब मांगा गया है।

Advertisement