प्रतिबंधित नशीली दवा के अवैध धंधे से जुड़े तीन गिरफ्तार

गौरेला। प्रतिबंधित नशीली दवा के अवैध धंधे से जुड़े तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने इनके कब्जे से भारी मात्रा में बुप्रेनोरफिन, 48 नग एविल, आठ मोबाइल और बिक्री की रकम जब्त की है। तीनों आरेपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।

यह है मामला

थाना प्रभारी गौरेला को सूचना मिली कि दो बालक बाबा तालाब के पास नशे की हालत में बैठे हुए हैं। पुलिस टीम को मौके पर भेजकर उन बालकों से पूछताछ की। दोनों ने नशीली दवा का सेवन किया हुआ था। उन्होंने बताया कि वे सारबहरा के बबली साहू एवं पुराना गौरेला के नसरीन अली के पास से नशीले इंजेक्शन खरीद कर लाए थे। गौरेला का प्रिंस रजक इनको इंजेक्शन लाकर देता है।

तीनों आरोपियों को किया गिरफ्तार

इस संबंध में पुलिस ने तीनों आरोपितों के बारे में जानकारी ली। दो आरोपित अपने घर में तथा एक आरोपित पेंड्रा में होने की जानकारी मिली। दूसरी टीम थाना पेंड्रा एवं साइबर सेल की तैयार कर एक साथ तीनों को हिरासत में ले लिया गया। उनसे प्रतिबंधित एम्पुल, मोबाइल आदि जब्त किया गया है।

ये नशीली दवाइयां मिली

पुलिस ने आरोपित बबली साहू पिता भास्कर साहू (34) निवासी सारबहरा, गौरेला के पास से 17 नग बुप्रेनोरफिन, 62 नग एविल, एक मोबाइल बिक्री रकम चार हजार चार सौ रुपए जब्त कर धारा 21, 22 सी एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की गई। इसी प्रकार आरोपित नसरीन पति मोहम्मद नावेद अली (30) निवासी भरियानखोर, पुराना गौरेला के पास 12 नग बुप्रेनोरफिन, 31 नग एविल, एक मोबाइल और बिक्री रकम जब्त की। मामले में थाना पेंड्रा पुलिस ने 22 सी एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की।

नशीली दवा

इसी प्रकार से आरोपित प्रिंस रजक पिता स्व़ कमला प्रसाद रजक (22) वार्ड क्रमांक सात खैरमाई चौक, गौरेला को पकड़ा है। गौरतलब है कि नशे के खिलाफ प्रभावी रोक के लिए नवपदस्थ एसपी भावना गुप्ता ने एडिशनल एसपी मनीषा ठाकुर, एसडीओपी श्याम कुमार सिदार के मार्गदर्शन में थाना प्रभारियों को मेडिकल संचालकों की बैठक कर जिले में नशे का कारोबार करने वालों के विरुद्ध कार्यवाही के निर्देश दिए थे।

Advertisement