हॉस्पिटल में मरीज की मौत पर परिजनों ने किया हंगामा और तोडफ़ोड़, पुलिस ने संभाला मोर्चा

कोरबा। एनकेएच हॉस्पिटल में एक मरीज के मौत होने पर उसके परिजनों ने जमकर हंगामा किया। परिजनों ने डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाया। अस्पताल प्रबंधन और परिजनों के बीच विवाद तोडफ़ोड़ और हाथापाई तक बढ़ गया। सूचना मिलते ही सिविल लाइन थाना पुलिस मौके पर पहुंचे और मोर्चा संभाला।

यह है मामला

दादर खुर्द के रहने वाले सत्यनारायण पटेल (52 वर्ष) को कुछ दिनों पहले तबीयत बिगडऩे पर निजी अस्पताल में भर्ती कराया था। आईसीयू में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। परिजनों को जब सत्यनारायण की मौत की सूचना मिली तो उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया।

मृतक के परिजनों के अनुसार सत्यनारायण पटेल सुबह 6 बजे तक उनसे बातचीत कर रहा था। जहां अचानक उसकी मौत जानकारी मिली। परिजनों ने आरोप लगाया कि डॉक्टर की लापरवाही के चलते उसकी मौत हुई है। परिजनों ने बताया कि अस्पताल में नर्स और गार्ड ने उनसे अभद्रता की और मारपीट करने पर उतर आए।

सांस लेने में दिक्कत के बाद मौत

डॉ. सुदीपकर शाह ने बताया कि मरीज को कई प्रकार के रोग थे। उनका इलाज चल रहा था। आज उसके सीने से पानी निकालना था। अचानक उसे सांस लेने में दिक्कत हुई। इसके बाद उसकी मौत हो गई। उन्होंने कहा कि मृतक के परिजनों ने उनके साथ मारपीट नहीं की लेकिन गार्ड और नर्स के साथ हाथापाई जरूर हुई है।

उधर, सिविल लाइन थाना प्रभारी सुमन पोया ने बताया कि सत्यनारायण पटेल नामक व्यक्ति को भर्ती कराया गया था। उसे बीपी लो की शिकायत थी। मौत होने के बाद परिजनों द्वारा हंगामा मचाने की सूचना मिली थी। मौके पर पहुंचकर परिजनों को समझाया है। फिलहाल शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

Advertisement