प्रतिबंधित नशीली दवा की कार से तस्करी, 4.50 लाख की दवा समेत तस्कर Arrest

नशीली दवा

मुजफ्फरनगर। प्रतिबंधित नशीली दवा की कार से तस्करी किए जाने का मामला पकड़ में आया है। पुलिस ने साढ़े चार लाख की नशीली दवा समेत तस्कर को मौके से गिरफ्तार कर लिया है। तस्करी में प्रयोग में लाई गई कार को भी जब्त कर लिया गया है। पूछताछ में पता चला कि आरोपी तस्कर कार में यह नशीली दवा लेकर बिजनौर में डिलीवरी देने जा रहा था। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी का चालान कर दिया।

यह है मामला

जानसठ थाना पुलिस ने भलवा चौकी खतौली रोड पर वाहनों की जांच के दौरान खतौली की तरफ से आ रही एक आल्टो कार को रोका। कार की तलाशी में प्रतिबंधित दवाइयां मिली। पुलिस ने आरोपी कार चालक ककरौली के मूल निवासी विपिन पाल पुत्र फौजपाल को गिरफ्तार कर लिया।

ऐसे आया इस काले धंधे में

नशीली दवा

आरोपी तस्कर वर्तमान में गांधीनगर छंगा मंदिर के पास नई मंडी कोतवाली क्षेत्र में रहता है। बताया गया कि विपिन पहले जिला परिषद मार्केट में स्थित एक मेडिकल स्टोर पर नौकरी करता था। वहीं पर उसकी मुलाकात प्रतिबंधित नशीली दवाओं को बेचने का अवैध धंधा करने वाले रामपुरी निवासी अंकित पुत्र राजेंद्र प्रजापति से हुई। वह अंकित से नशीली दवाओं को खरीद कर दूसरे जिलों में सप्लाई करने लगा। वह व्हाट्सएप पर काल कर अंकित से नकद दवाएं खरीदता था। अंकित ई रिक्शा में दवाई भेजता था।

ये नशीली दवाएं मिली

विपिन शुक्रवार को बिजनौर जिले में नशीली दवाओं की डिलीवरी देने जा रहा था। बरामद नशीली दवाओं की कीमत साढ़े चार लाख रुपये से ज्यादा बताई गई है। बरामद दवाओं में 36480 कैप्सूल, 1500 नशीले इंजेक्शन व 1800 नशीली गोली है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी विपिन का चालान कर दिया। फिलहाल पुलिस अंकित की तलाश में जुटी है।

Advertisement