नशीले इंजेक्शन की तस्करी में दो दबोचे, 94,600 रुपये के प्रतिबंधित इंजेक्शन बरामद

शहडोल। नशीले इंजेक्शन की तस्करी के आरोप में दो युवकों को गिरफ्तार किया गया है। दोनों तस्करों के कब्जे से 946 नग प्रतिबंधित इंजेक्शन बरामद किए गए हैं। बरामद इंजेक्शन की कीमत 94 हजार 600 रुपए बताई गई है।

यह है मामला

पुलिस अधीक्षक को जानकारी मिली कि घी बाड़ा के पास के कुछ लोग नशीली दवाई बैग पर छिपाकर रखे हुए हैं। वे इसे बेचने के चक्कर में हैं। एसपी ने स्पेशल टीम गठित कर कार्रवाई के निर्देश दिए। टीम ने मौके पर महुआ पेड़ के नीचे घेराबंदी कर दो युवकों को हिरासत में ले लिया। तलाशी लेने पर बैग में रखे 946 नग प्रतिबंधित इंजेक्शन बरामद हुए। आरोपियों ने पूछताछ में अपना नाम अमन गुप्ता उर्फ नितीश पुत्र सुनील गुप्ता 23 वर्ष निवासी पांडव नगर व मनजीत संधु पुत्र गुरुवचन सिंह संधु 19 वर्ष निवासी सौखी मोहल्ला बताया। दोनों युवकों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि युवकों के कब्जे से 946 नग नशीली इंजेक्शन बरामद किए है। इनकी कीमत 94 हजार 600 रुपए बताई जा रही है। प्रतिबंधित इंजेक्शन अलग- अलग कंपनी के हैं। इन्हें आरोपी शहर सहित आसपास के क्षेत्र में बेचने के लिए योजना बना रहे थे।

भोपाल से आते थे इंजेक्शन

आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि 1 हजार इंजेक्शन की खेप आती है। वे इसे 30-30 इंजेक्शन का पैकेट बनाकर नगर के घरौला मोहल्ला, पुट्टीबाड़ा, पुरानी बस्ती, कल्याणपुर, सिंहपुर रोड, सोहागपुर के साथ ही आसपास के इलाकों में सप्लाई कर देते थे। वह बीते दो महीने से इंजेक्शन का कारोबार कर रहे हैं। इंजेक्शन की खेप भोपाल से ट्रेन के माध्यम से आती थी। इस कार्रवाई में सहायक उप निरीक्षक राजेन्द्र तिवारी, राकेश बागरी, रजनीश तिवारी, विश्वनाथ तिवारी, मायाराम अहिरवार, सत्यनारायण पाण्डेय, अभिमन्यू वर्मा एवं सौरभ मिश्रा शामिल रहे।

 

Advertisement