खुशखबरी: मोदी से बिलासपुर एम्स लेने में सफल रहे नड्डा

नई दिल्ली: हिमाचल की वादियों में इन दिनों चुनावी हवाएं बह रही हैं और देश के स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा इन हवाओं के कण-कण पर नजर रखें हैं, क्योंकि हिमाचल नड्डा की हमेशा पहली पसंद रही है। अब उनका सपना राज्य की सबसे ऊंची कुर्सी पर काबिज होने का है। इसी के मद्देनजर उन्होंने हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) को मंजूरी देने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को राजी कर लिया।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य क्षेत्र में एनडीए सरकार की उपलब्धियों की सूची में ‘एम्स बिलासपुर’ एक और मील का पत्थर है। प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन और दूरदर्शी नेतृत्व में मंत्रालय देश में तृतीयक स्वास्थ्य देखभाल नेटवर्क को मजबूत करने की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि ‘एम्स बिलासपुर’ न केवल हिमाचल प्रदेश, बल्कि अन्य उत्तरी राज्यों की विशाल आबादी को भी अत्यंत आवश्यक तृतीयक चिकित्सा सेवाएं प्रदान करेगा। नड्डा ने कहा कि स्वास्थ्य किसी भी राज्य की विकास गाथा में एक अत्यंत महत्वपूर्ण आधार होता है और प्रधानमंत्री मोदी जी के रूप में एक व्यावहारिक एवं प्रगतिशील नेता के मार्गदर्शन में हिमाचल प्रदेश स्वास्थ्य के क्षेत्र में काफी लाभान्वित हुआ है। नड्डा ने कहा कि ‘एम्स बिलासपुर’ अपनी विविध चिकित्सा सुविधाओं के बल पर इस पहाड़ी राज्य को व्यापक विकास और तरक्की की ओर अग्रसर करेगा।