दवा बाजार में नारकोटिक्स विभाग के छापे से खलबली

आगरा: ताज नगरी के चर्चित फव्वारा दवा बाजार में केंद्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो के छापे से दवा कारोबारियों में हलचल मच गई। टीम ने नशीली दवाओं की सूचना के चलते इस कार्रवाई को अंजाम दिया। टीम को यहां गोदाम से बड़ी मात्रा में नशे में इस्तेमाल होने वाली नारकोटिक्स दवाओं का जखीरा मिला। दवा बाजार में देर रात तक टीम ने छानबीन कर लाखों का माल पकड़ा।

जानकारी के मुताबिक, नींद की दवा, इंजेक्शन सहित नारकोटिक्स दवाओं की बिक्री का पूरा रिकॉर्ड रखना अनिवार्य है ताकि इन दवाओं का इस्तेमाल नशे के लिए न हो सके। नारकोटिक्स विभाग के अधिकारियों की मानें तो फव्वारा दवा बाजार से नशीली दवाओं के बड़े गोरखधंधे की शिकायतें लगातार आ रही थी। पूरा होमवर्क करने के बाद योजनाबद्ध तरीके से टीम ने छापा मारा। पता चला है कि दिल्ली से फव्वारा दवा बाजार में अवैध नारकोटिक्स की भारी मात्रा में दवा सप्लाई होती है। टीम ने कोतवाली पुलिस को साथ लेकर नारकोटिक्स दवाओं का काला कारोबार कर रहे लोगों को पकड़ा। जसवंत सिनेमा के सामने स्थित दवा मार्केट में भी छापा मार अभियान चलाया गया। कई बंद गोदाम खुलवाए तो बड़ी मात्रा में नारकोटिक्स दवाएं बरामद हुई, जिन्हें कागजी कार्रवाई के बाद जब्त कर लिया गया। दवा कारोबारी के पास गोदाम का लाइसेंस भी नहीं मिला।