आयुर्वेद में डिग्री लेना पड़ेगा महंगा 

जयपुर। अगर आप राज्य में आयुर्वेद की पढ़ाई करना चाह रहे हैं तो इसके लिए अपनी जेब ढीली करनी पड़ेगी। दरअसल, बीएएमएस की फीस बढ़ा दी गई है। निजी संस्थानों में जहां बीएएमएस की फीस 1 लाख 20 हजार रुपए थी, उसे बढ़ाकर अब दो लाख रुपए कर दिया गया है। पीजी कोर्स के लिए भी सालभर की फीस 2 लाख 25 हजार रुपए तय कर दी गई है। यह निर्णय न्यायमूर्ति एस.एन.भार्गव की अध्यक्षता में गठित फीस निर्धारण कमेटी की बैठक में लिया गया है। आयुर्वेद एवं भारतीय चिकित्सा विभाग के संयुक्त शासन सचिव महेन्द्र प्रकाश शर्मा की ओर से फीस के आदेश जारी कर दिए गए हैं। ये आदेश इसी सत्र 2017-18 से लागू होंगे। उधर, सेन्ट्रल काउंसिल ऑफ इंडियन मेडिसन (सीसीआईएम) नई दिल्ली के पूर्व अध्यक्ष व वर्तमान में राज्य के निर्वाचित अध्यक्ष वैद्य रघुनंदन शर्मा ने कहा कि फीस बढ़ाने के साथ ही निजी संस्थानों में छात्रों को गुणवत्ता से युक्त शिक्षा देने के लिए स्टाफ, उपकरण एवं इन्फ्रास्ट्रक्चर पूरा होना चाहिए।