फार्मा हब बनेगा हरियाणा का जिला करनाल

करनाल। सीएम सिटी में फार्मा हब खोलने की कवायद जारी है। इससे शहर और आसपास के क्षेत्र के युवाओं को रोजगार मिल सकेगा। स्थानीय दवा व सौंदर्य प्रसाधन निर्माताओं के अलावा बाहर की कंपनियां भी इसमें निवेश कर सकेंगी। बता दें कि सीएम मनोहर लाल ने विधानसभा चुनाव के समय वादा किया था कि यहां फार्मा हब बनाया जाएगा। करनाल फार्मास्यूटिकल मैन्यूफेक्चरर एसोसिएशन के अध्यक्ष आरएल शर्मा का कहना है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल अपनी बात के धनी हैं। उन्होंने फार्मा हब बनाने का वादा किया था और वह उसे पूरा कराने के लिए भरसक प्रयत्न कर रहे हैं। जल्द ही यह वादा पूरा हो जाएगा।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने करनाल विधानसभा चुनाव में उतरने के साथ ही कई वादे किए थे। उन्हीं से एक फार्मा हब बनाने का वादा था। चुनाव के बाद फार्मास्यूटिकल मैन्यूफेक्चरर एसोसिएशन ने उन्हें चुनावी वादा याद कराया तो उन्हें सकारात्मक जवाब मिला। चूंकि फार्मा हब बनाने के लिए भारत सरकार के रसायन मंत्रालय से अनुमति लेनी जरूरी होती है और इसमें प्रदेश सरकार का सहयोग रहता है। लिहाजा प्रदेश सरकार की ओर से इस कार्य के लिए हरी झंडी मिल गई। जबकि सीएम मनोहर लाल ने रसायन मंत्रालय से भी इस संदर्भ में बातचीत की। इसी का परिणाम रहा कि मई माह में मुरथल आए केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार ने करनाल में 100 एकड़ में फार्मा हब और पानीपत में 75 प्लास्टिक हब बनाने की घोषणा की थी।

इसके बाद एसोसिएशन के करनाल जोन के अध्यक्ष आरएल शर्मा के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने सीएम मनोहर लाल से मुलाकात की थी। करीब डेढ़ माह पहले करनाल के पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में हुई मुलाकात में सीएम ने प्रतिनिधिमंडल से कहा था कि वह फार्मा हब के लिए दो-तीन जगह का चुनाव कर लें। फार्मा पार्क बनाने के लिए सबसे उपयुक्त जगह हाईवे के किनारे मानी जा रही है। क्योंकि एसोसिएशन मानती है कि जगह ऐसी होनी चाहिए, जो पहुंच में आसान हो और यातायात के लिहाज से मुफीद। इसी वजह से हाइवे के किनारे फार्मा हब बनाना चाहिए।