जर्मनी की सरकारी दवा नियामक ने रेड्डीज लेबोरेट्रीज पर सवाल उठाए

नई दिल्ली: डॉक्टर रेड्डीज लेबोरेटरीज की एक विनिर्माण इकाई का दौरा करने आई जर्मनी की सरकारी दवा नियामक एजेंसी ने निरीक्षण के दौरान संयंत्र में अन्य उल्लंघनों के कमरे और उपकरणों को गंदा पाया। सेंट्रल अथॉरिटी फॉर सुपरविजन ऑफ मेडिसिनल प्रोडक्ट्स की निरीक्षण रिपोर्ट के मुताबिक, दवा निर्माता कंपनी की बाचुपल्ली विनिर्माण इकाई-2 का अगस्त महीने के पहले सप्ताह में निरीक्षण किया था।

अगस्त में दवा निर्माता कंपनी की जर्मन अनुषंगी बीटाफार्म को नियामकीय प्राधिकरण की ओर से जानकारी मिली थी कि नियामक ने उसके माल विनिर्माण से संबंधित अनुपालन प्रमाण पत्र का नवीनीकरण नहीं किया है। इसी आधार पर निरीक्षण प्रक्रिया अमल में लाई गई। वहीं, डॉक्टर रेड्डीज की ओर से जानकारी दी गई थी कि प्रमाणपत्र का नवीनीकरण नहीं होने के कारण संयंत्र यूरोपीय संघ को वितरण नहीं कर पाएगा।