अस्पताल में सीरिंज का हो रहा बार-बार प्रयोग

ग्वालियर। जयारोग्य चिकित्सालय में अस्पताल प्रबंधन और चिकित्सकों की भारी लापरवाही सामने आई है। अस्पताल के वार्डों में भर्ती मरीजों को एक ही सिरिंज से इंजेक्शन लगाए जा रहे हैं। पता चला है कि वार्डों में सिरिंज की सप्लाई नहीं हो पा रही है। इस कारण यहां आने वाले मरीजों से सिरिंज बाहर से खरीद कर लाने को कहा जाता है। जो मरीज सिरिंज खरीदने में असमर्थ होते हैं उन्हें इस्तेमाल की हुई सिरिंज से ही इंजेक्शन लगा दिया जाता है। वार्ड में ड्यूटी पर मौजूद नर्स एक ही सिरिंज को बार-बार साफ कर अन्य जरूरतमंद मरीज को लगा देती है।

इंजेक्शन लगाने के बाद सिरिंज को फेंका नहीं जाता बल्कि उसे इंजेक्शन टेबल पर संभाल कर रख लिया जाता है। इससे मरीजों में एक-दूसरे का संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है। एक सिरिंज का उपयोग एक ही मरीज के लिए करने के शासन के स्पष्ट निर्देश के बावजूद अस्पताल प्रबंधन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा। वह सबकुछ जानकर भी अनजान बना बैठा है। इस बारे में जयारोग्य चिकित्सालय के सहायक अधीक्षक डॉ. जितेन्द्र नरवरिया का कहना है कि स्टोर में सिरिंज की पर्याप्त संख्या है। अगर एक ही सिरिंज से कई मरीजों को इंजेक्शन लगाए जा रहे हैं तो सिस्टर इंचार्ज के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।