हरियाणा ड्रग विभाग का सामने आया सच

अंबाला : हरियाणा फूड ड्रग्स एडमिनिस्ट्रेशन विभाग में जहां डीसीओ की कमी है, वहीं एसडीसीओ की कुर्सियां भी खाली हैं। एक डीसीओ को एक से अधिक स्टेशनों का कार्यभार देखना पड़ रहा है। इससे जहां उन्हें डयूटी और लक्ष्य पूरा करने के लिए लंबी दौड़ लगानी पड़ती है वहीं निजी वाहन से देर तक रोड मार्च करना पड़ता है, जिससे आर्थिक घाटा भी सहन करना पड़ रहा है। करीब 42 माह पूर्व 4 डीसीओ की भर्ती प्रक्रिया शुरू की थी जो अभी तक सिरे नही चढ़ पाई। डीसीओ के लिए 46 स्वीकृत पद हैं।

डीसीओ की वर्तमान स्थिति
संदीप हुड्डा : अम्बाला 1&2
हेमन्त ग्रोवर : भिवानी, चरखीदादरी
कृष्ण कुमार : पलवल, फरीदाबाद 1
पूजा चौधरी : फरीदाबाद 2
राकेश कुमार : फतेहाबाद , सिरसा
संदीप गहलान: गुरुग्राम
सुरेश चौधरी: हिसार 1, हिसार 2
सुनील दहिया : जींद, करनाल
रजनीश: झज्जर
परवीन : कैथल , कुरूक्षेत्र
दिनेश राणा: मेवात
विजय राजे : नारनोल
रितु : पानीपत ,सोनीपत
परमिंदर मलिक: पंचकूला, यमुनानगर
अमनदीप: रेवाड़ी
मनदीप मान: रोहतक

एसडीसीओ की वर्तमान स्थिति
स्वीकृत- 10
तैनात- 7
खाली- 3
कर्ण सिंह गोदारा : फरीदाबाद
रिपन मेहता: अंबाला
सुनील चौधरी: गुरुग्राम
परजिंदर सिंह : करनाल
रमन कुमार : हिसार , सिरसा
राकेश दहिया : रोहतक, रेवाड़ी
गुरचरण सिंह : सोनीपत
कुरुक्षेत्र (अभी किसी को चार्ज नही)