ड्रग विभाग ने कैमिस्टों को नए साल का दिया तोहफा

पटना: नए साल यानी जनवरी-2018 से राज्य में दवा दुकानदारों को लाइसेंस मिलने लगेगा। लाइसेंस के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इसके लिए सॉफ्टवेयर तैयार किया जा रहा है। शुरुआत में प्रदेश के सात जिलों से ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू होगी। इसके बाद अन्य जिलों में सुविधा को लागू किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने यह जानकारी दी।

दरअसल, बीते दिन बिहार केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट्स एसोसिएशन की ओर से स्वास्थ्य मंत्री का स्वागत किया गया। राज्य के औषधि नियंत्रक रवींद्र कुमार सिन्हा भी यहां मौजूद रहे। मंत्री ने कहा कि ड्रग इंस्पेक्टर के बैठने, कागज तथा अन्य आवश्यक सामान रखने के लिए जगह नहीं थी, उसे व्यवस्थित किया गया है। साथ ही, ड्रग इंस्पेक्टर का ऑफिस अब झोले में नहीं चलेगा, उनके लिए सिविल सर्जन ऑफिस में व्यवस्था कराई गई है। मंत्री ने कहा कि बिहार में प्रधान मंत्री जन औषधि के तहत 800 दवा दुकानें जल्द खोलने का काम किया जाएगा। दवा एसोसिएशन के अध्यक्ष पीके सिंह और सचिव संतोष कुमार ने बताया कि एसोसिएशन ने बिहार में फॉर्मेसी कॉलेज खोलने और फॉर्मासिस्टों की बहाली की मांग मंत्री से की। संतोष कुमार ने कहा कि मंत्री ने मांगों को पूरा करने का आश्वासन दिया है।