हिमाचल में सरकार से पहले पहुंची 330 दवाइयां , बिल्कुल मुफ्त

शिमला: चुनावी नतीजों की घोषणा के साथ ही हिमाचल प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल आईजीएमसी में मरीजों को 330 दवाइयां नि:शुल्क मिलने खबर ने जनता को दोहरी खुशी दी है। प्रदेश सरकार ने आईजीएमसी प्रशासन को दवाइयों की मंजूरी दे दी है। अब 15 दिन के बाद यहां दवाइयां मरीजों को मिलनी शुरू हो जाएंगी। फिलहाल मरीजों को जेनेरिक स्टोर से 230 दवाइयां मिल रही हैं लेकिन यहां पर भी कुछ दिन पहले दवाइयों को बढ़ाकर 250 कर दिया गया। वर्तमान में जो दवाइयां बढ़ाई हैं, अब उनके मिलने से काफी फायदा होगा। आईजीएमसी के अगर जेनेरिक स्टोर की ही बात की जाए तो यहां पर प्रदेश भर के मरीज निशुल्क दवाइयों का फायदा उठा रहे हैं।

दवाइयां लेने के लिए रोजाना मरीजों की लाइनें लगी होती हैं। हिमाचल के मरीजों के लिए यह एक तरह से वरदान साबित हुआ है। इससे पहले ग्रामीण क्षेत्रों के तो अधिकतर लोग ऐसे होते थे जोकि चिकित्सक से अपना इलाज तो करवा लेते थे लेकिन उनके पास दवाइयां खरीदने के लिए पैसे नहीं होते थे। ऐसे में बिना दवाइयां खरीदकर मरीज घर को वापस लौट जाते थे। अब ऐसा कोई भी मरीज नहीं है जोकि खाली लौट रहा हो। आईजीएमसी में ये दवाइयां कहां पर मिलेंगी, इसको लेकर अभी मंथन चल रहा है। इन 330 दवाइयों को वितरित करने की बात फिलहाल जेनेरिक स्टोर वालों के साथ भी चल रही है लेकिन यह अभी तय नहीं हो पाया है कि जेनेरिक स्टोर से ही ये दवाइयां मिलेंगी। फिलहाल यहां प्रशासन ने दवाइयां प्रदान करने को ले तैयारियां शुरू कर दी हैं।