दवा दुकान में छापेमारी, भागे स्टोर संचालक!

सहरसा। बिहार के सहरसा में दवा दुकानों पर छापेमारी ने शहर में खलबली मचा दी। सदर एसडीओ और एसडीपीओ की अगुवाई में शहर के चांदनी चौक के पास दो दवा दुकानों पर छापेमारी की गई। जहां से नशीली और प्रतिबंधित दवा बेचे जाने की सूचना मिली थी। इस छापेमारी के दौरान भारी मात्रा में कफ सीरप और टेबलेट को जब्त किया गया। इतना ही नहीं एक दवा दुकानदार को तो गिरफ्तार भी कर लिया गया।

छापेमारी को लेकर एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी ने बताया कि सूचना मिली कि नशा में प्रयुक्त होने वाली व प्रतिबंधित दवा की बिक्री चांदनी चौक स्थित राजेश मेडिकल हॉल व सिन्हा मेडिकल हॉल से की जा रही है। जिसके बाद सदर एसडीओ प्रशांत कुमार चिलुका और उनके नेतृत्व में छापेमारी की गई। जहां से विभिन्न ब्रांड के कफ सीरप व टेबलेट, सूई बरामद किए गए। इन दवाओं को बेचने को लेकर कोई खास दस्तावेज भी नहीं पेश किए गए।

सदर थानाध्यक्ष आरके सह ने कहा कि राजेश मेडिकल से डायइलेक्स नामक सीरप 42 पीस, एलट्रोक्स सीपर 14 पीस, विसकॉफ 13 डिब्बा, स्पासमो प्रोक्सीवन टेबलेट 45 डिब्बा, फोर्टविन सूई 20, सिन्हा मेडिकल हॉल से रेसकॉफ सीरप 35 पीस, स्पासमो प्रोक्सीवन दो पैकेट व एन¨जट टेबलेट 90 पीस बरामद किया गया। इसके साथ ही राजेश मेडिकल हॉल के संचालक राजेश वर्मा को गिरफ्तार किया गया। वहीं सिन्हा मेडिकल हॉल के संचालक भाग निकले।