क्रिश्चियन अस्पताल का लाइसेंस कैंसिल…

राजनांदगांव (छ.ग.)। राजनांदगांव स्थित क्रिश्चियन फेलोशिप अस्पताल में मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद 11 मरीजों की आंखों की रोशनी चले जाने के मामले में प्रशासन ने अस्पताल का लाइसेंस छह माह के लिए रद्द कर दिया है। गौरतलब है कि क्रिश्चियन अस्पताल में बीते माह कुल 45 मरीजों के मोतियाबिंद के ऑपरेशन किए गए थे। ऑपरेशन के बाद मरीजों को घर भेज दिया गया। इनमें 32 मरीजों की आंखों में संक्रमण की बात सामने आई। प्रबंधक के अनुसार घटना के बाद मरीजों की जांच-पड़ताल व इलाज भी किया गया था लेकिन 11 मरीजों की एक आंख की रोशनी चली गई।

राज्य स्वास्थ्य सेवा संचालक ने मामला संज्ञान में आने के बाद जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी व अन्य अधिकारियों को जांच के लिए कहा प्रथम दृष्टया जांच में पाया गया कि इस घटना के बाद अस्पताल प्रबंधन ने लापरवाही बरतते हुए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग को मामले की जानकारी नहीं दी। अस्पताल प्रबंधन को इस लापरवाही का दोषी पाते हुए छह माह के लिए आंखों के ऑपरेशन करने का लाइसेंस रद्द कर दिया गया है।