चार लाख 13 हजार 156 बच्चों का होगा टीकाकरण

भिवानी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा राष्ट्रीय अभियान के तहत नौ महीने से 15 साल तक के बच्चों का खसरा और रूबेला बीमारी से बचाव के लिए टीकाकरण किया जाएगा। यह अभियान सभी स्कूलों, स्लम बस्ती, औद्योगिक क्षेत्र और ईंट भठ्ठों पर चलाया जाएगा। अभियान में सहयोग नहीं करने वाले नीजि स्कूलों पर विभागीय कार्रवाई की जाएगी। यह अभियान 25 अप्रैल से शुरु होगा। अभियान के तहत कम से कम 95 प्रतिशत बच्चों को टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है।

यह जानकारी बुधवार को स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव अमित झा ने प्रदेशभर के जिला उपायुक्त व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से दी। झा ने निर्देश दिए कि अभियान के दौरान नौ माह से 15 साल तक आयु का एक भी बच्चा टीकाकरण से न छूटे, इसके लिए स्कूलों के अलावा जिले में सभी प्ले स्कूल, कोचिंग सेंटर, आंगनवाड़ी केंद्रों पर बच्चों को टीके लगाए जाएं। उन्होंने निर्देश दिए कि इसके लिए माईक्रो प्लान के तहत अभियान चलना चाहिए। उन्होंने शिक्षा विभाग के अधिकारियों को प्ले स्कूलों की सूची तैयार करने को कहा। इसी प्रकार स्कूल ड्रॉप आऊट बच्चों की पहचान करके उनको भी टीके लगाए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि जिन कर्मचारियों को टीकाकरण के लिए प्रशिक्षण दिया गया है, उनको अवकाश पर न भेजा जाए। किसी विशेष आपात स्थिति में कर्मचारी या अधिकारी को उपायुक्त से अनुमति लेनी होगी। इस दौरान सिविल सर्जन डॉ. रणदीप पूनिया ने बताया कि भिवानी व दादरी जिले में चार लाख 13 हजार 156 बच्चों का टीकाकरण करने का लक्ष्य रखा गया है। भिवानी-दादरी जिलों में 541 प्राईवेट स्कूल, 1125 सरकारी स्कूल, छह सरकारी सहायता प्राप्त और 1125 आंगनवाड़ी केंद्र हैं, जहां पर यह अभियान चलाया जाएगा।