फर्जी डॉक्टर दबोचा, भेजा जेल

झाबुआ (मप्र)। पुलिस ने एक शिकायत के आधार पर अवैध रूप से चलाए जा रहे क्लीनिक पर रेड कर मरीजों का इलाज करने वाले फर्जी डॉक्टर को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी फर्जी डॉक्टर को कोर्ट में पेश किया गया। न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी राधाकिशन मालवीया ने आरोपी को दो साल की जेल और 3 हजार रुपए जुर्माना की सजा सुनाई। गौरतलब है कि आरोपी तपन गांव रामा में अवैध रूप से क्लीनिक चला रहा था।
इस बारे में शिकायत मिलने पर रामा सीएचसी के सीबीएएमओ डॉ. नंदराम शंखवार अपने साथ एमओ डॉ. शैलेंद्र डामोर, नायब तहसीलदार किरण गेहलोत, आरक्षक मुकेश आदि जांच दल के साथ क्लीनिक पर छापा मारने पहुंचे। इस क्लीनिक पर तपन एक मरीज का इलाज करता हुआ मिला। तपन के पास चिकित्सा प्रशिक्षण संबंधी कोई प्रामाणिक डिग्री-सर्टिफिकेट नहीं मिले। क्लीनिक के संचालन संबंधी भी उसके पास कोई कागजात नहीं थे। इस पर सीबीएमओ डॉ. शंखवार ने झाबुआ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने मौके पर आकर आरोपी फर्जी चिकित्सक को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया।