क्रीम की बिक्री पर रोक

नई दिल्ली। स्वास्थ्य मंत्रालय स्टेरॉयड बेस्ड क्रीम की ‘ओवर द काउंटर’ बिक्री पर रोक लगा दी गई है और यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है। यह क्रीम गोरा बनाने, पिंपल-रिंकल हटाने और अन्य त्वचा संबंधी इन्फेक्शन को दूर करने के लिए इस्तेमाल की जाती है। महिलाओं में यह क्रीम काफी लोकप्रिय है।

गौरतलब है कि सरकार ने ड्रग एंड कॉस्मेटिक एक्ट 1945 में बदलाव किया है, जिसके तहत स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्टेरॉयड बेस्ड क्रीम की ओवर द काउंटर बिक्री पर रोक लगाई है। क्रीम के बुरे असर को देखते हुए सरकार ने इसकी बिक्री पर रोक लगाने का फैसला लिया है। सरकार ने 14 स्टेरॉयड को शेड्यूल एच में डाला है। सिर्फ डॉक्टर के पर्चे पर ही शेड्यूल एच दवाएं मिल सकती हैं।

बता दें कि लगभग सभी बड़ी फार्मा कंपनियां स्टेरॉयड बेस्ड क्रीम बनाती हैं। स्टेरॉयड क्रीम का कारोबार करीब 4,500 करोड़ रुपए का है। हर ब्रांड का करीब 200 करोड़ रुपये का कारोबार है। वहीं, स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर्स का कहना है कि आजकल स्किन क्रीम में स्टेरॉयड का इस्तेमाल धड़ल्ले से हो रहा है। इससे तुरंत फायदा दिखता है लेकिन आगे चलकर इनसे नुकसान होता है।