ऑक्सीटोसिन के आयात पर बैन

नई दिल्ली। अब ऑक्सीटोसिन का आयात नहीं होगा। केंद्र सरकार ने इस पर  प्रतिबंध लगा दिया है। वहीं, सीमा शुल्क विभाग को देश में तस्करी से ऑक्सीटोसिन लाने का प्रयास रोकने के आदेश दिए है।
उत्पाद एवं सीमा शुल्क केंद्रीय बोर्ड ने फैसला लिया है कि स्वदेशी उत्पादन से ऑक्सीटोसिन की सभी जरूरतें पूरी की जाएंगी। किसी भी नाम पर ऑक्सीटोसिन के होने वाले आयात को तत्काल प्रभाव से रोका जाए। बोर्ड ने कहा है कि प्रतिबंध के बाद गैरकानूनी तरीके से ऑक्सीटोसिन की तस्करी का प्रयास किया जा सकता है।
सीमा शुल्क के मुख्य आयुक्त ने देशभर को जारी आदेश में कहा है कि किसी भी रूप में या नाम पर ऑक्सीटोसिन की तस्करी के प्रयास को रोका जाए। गौरतलब है कि कुछ डेयरी मालिक और पशुपालक दूध का उत्पादन और सब्जियों का आकार बढ़ाने के लिए ऑक्सीटोसिन का इस्तेमाल करते हैं। यह मानव शरीर के लिए बहुत हानिकारक है। बच्चे के जन्म के समय प्रसव पीड़ा कम करने के लिए भी ऑक्सीटोसिन का इस्तेमाल किया जाता है। इसका दुरुपयोग रोकने के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय ने बैठक करने के बाद सीमा शुल्क केंद्रीय बोर्ड को निर्देश दिया है।