नशीली दवा सप्लाई करने आया युवक दबोचा

रोहतक। पुलिस व स्वास्थ्य विभाग ने एक युवक को नशाीली दवाओं के साथ गिरफ्तार किया है। बताया गया है कि ये गोलियां हेरोइन व भुक्की का नशा छुड़ाने के लिए इस्तेमाल की जाती हैं। जब्त की गई एक हजार गोलियों की बाजारी कीमत 38 हजार रुपए है।

दवा नियंत्रक अधिकारी डॉ. मंदीप मान ने बताया कि भिवानी निवासी युवक के नशीली दवाओं के साथ होने की सूचना मिली थी। विशाल नामक युवक रोहतक में किसी को नशीली दवाओं की सप्लाई देने आया था। पुलिस के साथ साझा अभियान चलाकर आरोपी को हुडा कॉम्प्लेक्स से दबोच लिया गया। इसके पास से एक हजार टेबलेट्स मिली। दवा के 10 गोलियों के एक पत्ते पर 380 रुपए कीमत छपी है।

यह दवा केवल नशा मुक्ति केंद्र पर ही इस्तेमाल होती है। स्वास्थ्य विभाग के नियमानुसार दवा की इतनी बड़ी खेप कमर्शियल क्वांटिटी में आती हैं। इसके लिए आरोपी को 10 वर्ष तक की कैद हो सकती है। आरोपी युवक ने पुलिस पूछताछ में बताया कि उसकी एक व्यक्ति से फोन पर डील हुई थी। इसके चलते वह दवा सप्लाई देने रोहतक पहुंचा। उसका दावा है कि वह दिल्ली के भागीरथ पैलेस से कम कीमत पर दवा खरीद कर लाया था। इसे ज्यादा दाम पर बेचकर पांच-सात हजार रुपए लाभ मिलने की उम्मीद थी। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मादक पदार्थ अधिनियम के तहत केस दर्ज कर लिया है।