जेनरिक दवाओं की गुणवत्ता सुधारे सरकार 

धनबाद। पीएम नरेंद्र मोदी की ओर से देशभर के डॉक्टरों पर दिए गए बयान के खिलाफ इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने रणधीर वर्मा चौक पर प्रदर्शन किया। एसोसिएशन की धनबाद इकाई के सचिव डॉ. सुशील कुमार ने कहा कि पिछले दिनों इंग्लैंड दौरे में पीएम ने मन की बात कार्यक्रम में भारतीय डॉक्टरों के संबंध में जो टिप्पणी की है, उससे देशभर के डॉक्टरों को गहरा आघात पहुंचा है। पीएम ने कहा था कि भारतीय डॉक्टर जेनरिक दवा सिर्फ कमीशन नहीं मिलने की वजह से नहीं लिखते, जो सरासर गलत है। इससे डॉक्टरों का मान-सम्मान धूमिल हुआ है।
कुछ भ्रष्ट डॉक्टरों की वजह से पीएम पूरे चिकित्सा जगत पर उंगली नहीं उठा सकते हैं। डॉक्टर जेनरिक दवाएं लिखने के लिए तैयार हैं, लेकिन उनका उपयोग समाज का हर वर्ग करे, सरकार इसे सुनिश्चित करे। तभी जेनरिक दवाओं की क्वालिटी में सुधार होगा और ब्रांडेड दवाओं की जरूरत कम होगी। साथ ही, सरकार को जेनरिक दवाओं की गुणवत्ता की गारंटी भी लेनी होगी। प्रदर्शन में आईएमए की धनबाद इकाई के अध्यक्ष डॉ. बीके सिंह, उपाध्यक्ष डॉ. चंदन सिंह, डॉ. बीके सिन्हा, डॉ. राकेश इंदर सिंह, डॉ. लोकेश जालान आदि भी शामिल थे।