जागरूकता से ही डायबिटिज का खात्मा: डॉ. माथुर

जोधपुर

मौलाना आजाद यूनिवर्सिटी के पब्ल्कि हेल्थ विभाग की ओर से होटल ताज के सभागार में होटल के सेफ एवं स्टाफ सदस्यों के लिए ‘डायबिटीज की रोकथाम एवं संयमित व पोष्टिक खानपान’ विषय पर विशेष कार्यशाला का आयोजन किया गया। पब्लिक हैल्थ विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. सौरभ चक्रवर्ती ने बताया कि कार्यशाला में केलिफॉर्निया के वेस्टर्न डायबिटिज इन्स्टीट्यूट के मधुमेह विशेषज्ञ एवं जोधपुर स्कूल ऑफ पब्लिक हैल्थ के विजिटिंग फैकल्टी डॉ एन्ड्रयू एस. प्यूमिरेन्ज ने बताया की चिकित्सक शुगर की बढ़ती बीमारी का कारण मुख्य रूप से अनियमित दिनचर्या को बताया। आहार में हाई कैलोरी डाइट व फास्ट फूड लिया जा रहा है। इसके अलावा तनाव, शराब व स्मोकिंग की वजह से भी शुगर होने का खतरा बढ़ जाता है। वरिष्ठ फिजीशियन डॉ अरविन्द माथुर ने कहा कि सब लोगों की जागरूकता से ही डायबिटिज का खात्मा किया जा सकता है। मधुमेह की रोकथाम का आसान तरीका है हाई रिस्क आबादी की पहचान और उसे रोकथाम की उचित शिक्षा देना। जेएसपीएच सदस्य डॉ. भावना सती ने स्वस्थ्य खान पान शैली के जरिये, डायबिटीज से बचाव, डायबिटीज होने पर उसका प्रबंधन तथा मधुमेह सम्बन्धी जटिलताओं से बचाव पर बताया। जेएसपीएच डॉ रश्मि राठौर ने सही भोजन, सही समय पर, सही मात्रा में लेने और दिनचर्या में कसरत के समन्वय पर जोर दिया। होटल महाप्रबंधक विजय श्रीकेंट ने आभार व्यक्त किया।