टीकाकरण के खिलाफ झूठा प्रचार किया तो खैर नहीं! 

चंडीगढ़। पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री ब्रह्म महिंद्रा ने कहा है कि सोशल मीडिया पर मीजल्स रुबेला मुहिम के खिलाफ अफवाहें फैलाने वाले असामाजिक तत्वों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि साइबर क्राइम सैल को हिदायतें दे दी गई हैं कि उन लोगों की पहचान की करें जो कि फरीदकोट से शुरू की गई मुहिम का गलत प्रचार कर रहे हैं। राज्य के कुछ स्थानों पर इस दवा लेने बाद में कुछ बच्चों के बेहोश होने संबंधी मीडिया रिपोर्टों पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने जानकारी दी कि यह सब घबराहट के कारण हुआ था और इन बच्चों में और कोई बुरे प्रभाव नहीं देखे गए थे।
इन बच्चों को कुछ देर निगरानी में रखने के बाद जल्दी ही छुट्टी दे दी गई थी। ब्रह्म महिंद्रा ने बताया कि सूबे के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग द्वारा बीते दिनों मीजल्स रुबेला दवा मुहिम शुरू की गई थी और 2,36,043 बच्चों को पहले दिन यह दवा दी गई थी। उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ असामाजिक तत्व झूठे और भ्रामक प्रचार के द्वारा इस मीजल्स रुबेला मुहिम को असफल करना चाहते हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने आगे कहा कि, यही दवा पूरी दुनिया में सफलापूर्वक इस्तेमाल हो रही है। उन्होंने लोगों को और विशेषकर माता-पिता से अपील की कि वह बिना किसी डर के अपने बच्चों को यह दवा दिलाने के लिए सामने आएं