मेडिकल स्टोर से 30 लाख की दवाइयां जब्त 

पटना। नकली व मिलावटी दवा बेचने की सूचना पर औषधि विभाग की टीम ने जगत नारायण स्थित बीरानी फॉर्मास्यूटिकल नामक दवा दुकान पर छापेमारी की। यहां 30 लाख रुपए की दवाएं जब्त की गई हैं। हालांकि औषधि विभाग के ड्रग इंस्पेक्टरों का कहना है कि यह दवा नकली नहीं है। यह आपसी रंजिश के चलते किसी ने पुलिस विभाग को गलत सूचना दे दी है। हालांकि दवाओं की बिक्री पर रोक लगा दी गयी हैं। औषधि विभाग ने जब्त दवाओं को जांच के लिए भेज दिया है।
रिपोर्ट आने के बाद बिक्री करने के लिए आदेश जारी किए जाएंगे। औषधि विभाग के ड्रग इंस्पेक्टर सच्चिदानंद विक्रांत ने बताया कि जो दवा जब्त की गयी है उसका नाम ट्रामाडॉल है। इस दवा का सबसे अधिक इस्तेमाल दर्द में किया जाता है। उन्होंने बताया कि दवा नकली नहीं है, लेकिन जो लेबल लगाये गये थे, वह पुराने थे, जबकि नये लेवल लगाये जाने हैं। इसको देखते हुए दवा दुकान के संचालक राजकुमार प्रसाद को आदेश जारी किया गया है। वहीं ड्रग इंस्पेक्टर राजेश सिन्हा ने बताया कि संबंधित दुकानदार को नोटिस जारी कर लेबल लगाने की बात कही गयी थी। दुकानदार जब तक नए लेबल नहीं लगाएगा, तब तक दवाएं जब्त रहेंगी। उन्होंने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर जीएम रोड दवा मंडी स्थित महिमा पैलेस में भी छापेमारी की गयी, लेकिन वहां सूचना गलत निकली।