डीसीओ के लिए स्वास्थ्य मंत्री नहीं ले रहे रुचि

अम्बाला। स्टेट फूड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन में ड्रग कंट्रोल ऑफिसर का जबरदस्त घाटा चल रहा है। एक डीसीओ को 2 या 3 जिले संभालने पढ़ रहे हैं, वहीं एक डीसीओ को स्वास्थ्य मंत्री के निर्देशानुसार सस्पेंशन का दंड भोगना पड़ रहा है। इससे स्थिति एक करेला दूसरा नीम चढ़ा वली सार्थक हो रही है। इस बारे मेडीकेयर न्यूज ने स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से चर्चा की तो उन्होंने कहा कि स्थिति उनके संज्ञान में है। उन्होंने सस्पेंड चल रही डीसीओ के बारे में बताया कि जांच चल रही है। शीघ्र ही निचोड़ सामने आते ही आगामी कार्रवाई की जाएगी।
गौरतलब है कि राज्य में गरीब 4 वर्ष पूर्व 4 डीसीओ के पद के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए थे जिस पर मौजूदा सरकार अधिक सार्थक कार्रवाई करने में कछुआ चाल से चल रही है। इस बारे स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि डीसीओ नियुक्त करना उनके विभाग  से संबंधित नहीं है। नियुक्ति करना एचपीएससी की जिम्मेवारी में आता है। एचपीएससी ही इस बारे उचित जानकारी दे सकती है। इतना अवश्य है है कि एचपीएससी को इस बारे तेज गति से काम करने के लिए जरूर कहेंगे ताकि राज्य में डीसीओ की कमी को कुछ हद तक पूरा किया जा सके।