इस अस्पताल में हुक्के से होता है इलाज  

उज्जैन (मध्य प्रदेश)। पुराने समय में लोग खासकर ग्रामीण अंचल में हुक्का पीते थे लेकिन वर्तमान पीढ़ी इससे लगभग अनजान ही है। हालांकि, कुछ महानगरों में हुक्का पार्लर भी खुले हुए हैं। यहां लोग इकट्ठे होकर इसे पीते हैं हालांकि इस बात की जानकारी हर किसी को होती है कि धूम्रपान सेहत के लिए हानिकारक है। फिर भी लोग ऐसी जगहों पर जाते हैं।
देश में एक ऐसा अस्पताल भी है जहां पर इलाज के नाम पर लोगों को दवा की जगह हुक्का पीने की सलाह दी जाती है। मध्य प्रदेश के उज्जैन में स्थित शासकीय स्वशासी धन्वंतरि आयुर्वेदिक महाविद्यालय में मरीज को हुक्का पिलाया जाता है। अस्पताल के प्रशासन का यह कहना है कि हुक्के से मरीजों की बीमारियों का इलाज होता है। दरअसल, यहां पर जो हुक्का पिलाया जाता है उसमें आयुर्वेदिक औषधियों का चूर्ण भरा जाता है। इस हुक्के को पीने से मरीज जल्दी ठीक हो जाता है। यह इलाज करने का अनोखा तरीका है। इसी कारण देश के अलग-अलग हिस्सों से लोग यहां पर रोगों का इलाज करवाने के लिए आते हैं। इस अस्पताल में दमा,जुकाम और फेफडों से जुड़ी परेशानियां दूर हो जाती हैं। वहीं बहुत से लोगों का यह भी मानना है कि इससे लाइलाज बीमारियों से भी छुटकारा मिल जाता है।