फार्मा हब के लिए बदला जाएगा कॉलोनी का ले-आउट

गाजियाबाद। मधुबन-बापूधाम कॉलोनी में फार्मा हब बनाने के लिए जीडीए एनएच-58 के आसपास की प्रॉपर्टी का दोबारा से ले-आउट तैयार करेगा। जीडीए फार्मा के लिए जुलाई से प्लॉट की नीलामी करेगा। बता दें कि मधुबन-बापूधाम कॉलोनी में जीडीए की प्रॉपर्टी सेल नहीं हो पा रही है। इसी के चलते इस कॉलोनी में कई हजार प्लॉट खाली पड़े हैं। प्रॉपर्टी सेल नहीं होने के कारण अब इस कॉलोनी में ही जीडीए फार्मा हब बनाने की कोशिश में लगा है। इसके लिए जीडीए ने अब जमीनी तौर पर कार्य शुरू कर दिया।
जीडीए सचिव संतोष कुमार राय ने बताया कि फार्मा हब बनाने के लिए जीडीए मधुबन-बापूधाम कॉलोनी के एनएच-58 से जुड़ी प्रॉपर्टी का ले-आउट तैयार करेगा। ले-आउट तैयार करने के लिए जीडीए के मास्टर प्लान ने सर्वे का कार्य शुरू कर दिया है। राय का दावा है कि इसी महीने में ले-आउट फाइनल कर दिया जाएगा। ले-आउट में छोटे प्लॉट को बड़ा और बड़े प्लॉट को जरूरत के हिसाब से छोटा डिजाइन किया जाएगा। जीडीए को उम्मीद है कि लोकेशन अच्छी है इसलिए मधुबन-बापूधाम कॉलोनी में बड़ी संख्या में फार्मा कंपनियां आएंगी। इससे यह इलाका जिले का ही नहीं बल्कि पूरे एनसीआर क्षेत्र का सबसे बड़ा फार्मा हब बन सकेगा।