होम्योपैथी काउंसिल भंग कर नई बॉडी का किया गठन

जयपुर। देशभर के होम्योपैथिक कॉलेजों में इन्फ्रास्ट्रक्चर, मैनपावर व उपकरण के मापदंड निर्धारित कर मान्यता देने, विद्यार्थियों को प्रवेश देने व फैकल्टी को समय-समय पर अपग्रेड करने वाला सेन्ट्रल काउंसिल ऑफ होम्योपैथी (सीसीएच) को भंग कर नया बोर्ड ऑफ गवर्निग बॉडी का गठन किया गया है। इसके पीछे होम्योपैथिक काउंसिल पर कॉलेजों की मान्यताओं को लेकर भ्रष्टाचार की शिकायतें मिलना मुख्य कारण माना जा रहा है।

आयुष मेडिकल एसोसिएशन के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ. राकेश पाण्डेय का कहना है कि कॉलेजों की मान्यता व प्रवेश में पारदर्शिता के लिए निर्णय लिया गया है। आयुष मंत्रालय ने नए बोर्ड में निलंजन सन्याल (दिल्ली) को चेयरपर्सन, प्रमोद कुमार पाठक (दिल्ली) सदस्य एक्सऑफीसर, डॉ संजय गुप्ता (भोपाल) सदस्य, डॉ. अनिल कुमार मल्होत्रा (नई दिल्ली) सदस्य , डॉ. अनिल खुराना, सदस्य, डॉ. नित्यानंद तिवारी (मुंबई) को सदस्य नियुक्त किया गया है। ज्ञातव्य है कि राजस्थान में होम्योपैथी के चार संस्थान समेत देशभर में कुल 207 कॉलेज संचालित हैं।