पीएम मोदी ने जन औषधि परियोजना के गिनाए लाभ

नई दिल्ली। नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि परियोजना, किफायती कार्डियाक स्टेंट और घुटना प्रत्यारोपण के लाभार्थियों से नमो ऐप के जरिए बात की। उन्होंने कहा कि दिल के इलाज के लिए लोगों को अपना घर, दुकान तक गिरवी रखना पड़ता था, लेकिन अब तस्वीर बदल गई है। सरकार ने स्टेंट की कीमतें को 1.5 से 2 लाख तक कम कर 30 हजार रुपए कर दिया है।
मोदी ने कहा कि सरकार ने अच्छी और सस्ती स्वास्थ सेवाएं जो गरीब से गरीब व्यक्ति तक पहुंच सकें, इसके लिए अच्छे अस्पतालों का निर्माण और डॉक्टरों की सीटें बढ़ाने का काम किया। प्रधानमंत्री जन औषधि परियोजना के तहत हमने सुनिश्चित किया है कि देश की जनता को दवाइयां कम से कम कीमतों में मिल सके। रोगियों को पहले जिन दवाओं के लिए 3000 रुपए प्रति महीना खर्च करना पड़ता था, अब वही दवाई जन औषधि केंद्र से 600-800 रुपए प्रति माह में उपलब्ध है। हर सफलता और समृद्धि का आधार स्वास्थ्य है और हमने विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य सेवा आयुष्मान भारत योजना को लागू किया।