अब सफदरजंग में भी होगा मरीजों का रजिस्ट्रेशन

नई दिल्ली। सफदरजंग में एम्स की तर्ज पर पेशेंट इंफॉर्मेशन सिस्टम शुरू किया गया है। इससे एम्स की तर्ज पर ही मरीजों का रजिस्ट्रेशन होगा। जांच से लेकर उनकी पूरी डिटेल ऑनलाइन होगी। मरीजों के रजिस्ट्रेशन के बाद सफदरजंग में भी रजिस्ट्रेशन कार्ड पर बारकोड लगा होगा। इसके जरिए डॉक्टर ओपीडी में ही मरीजों की रिपोर्ट देख सकेंगे। मरीज भी अपनी रिपोर्ट ऑनलाइन देख सकेंगे। फिलहाल यह सुविधा इमरजेंसी में ही शुरू की गई है। हार्डवेयर में आ रही दिक्कतों के कारण अन्य विभागों में यह शुरू नहीं हो सकी है। अस्पताल की ओल्ड बिल्डिंग में इसे शुरू करना अस्पताल प्रशासन के लिए चुनौती बना है।

सफदरजंग अस्पताल के एमएस डॉ. राजेंद्र शर्मा का कहना है कि इस सिस्टम को लगाने में बार-बार तकनीकी समस्याएं आ रही हैं। इमरजेंसी में भी यह ठीक से शुरू नहीं हो पाया है। इमरजेंसी में जब यह पूरी तरह शुरू होगा, उसके बाद धीरे-धीरे अन्य विभागों में भी शुरू कर दिया जाएगा। इससे मरीजों को काफी फायदे मिलेंगे। मरीजों को खून की जांच के लिए लंबी लाइन में नहीं लगना पड़ेगा। एम्स की तरह एक दिन में ही मरीजों को जांच के लिए बुला लिया जाएगा। वहीं, खून की जांच या रेडियो डायग्नोसिस रिपोर्ट के लिए मरीजों को काउंटर पर लंबे समय तक खड़ा नहीं होना पड़ेगा। मरीज का जिस विभाग में इलाज चल रहा होगा, वहीं उन्हें रिपोर्ट मिल जाएगी। उधर, ओपीडी में बेवजह की भीड़ से निजात मिलेगी और मरीजों को एक से दूसरे विभाग में रेफर करना और उन्हें इलाज करवाना आसान हो जाएगा।